0 अब तक योजना से 1822 हुए लाभान्वित

कोरबा। नईदुनिया न्यूज

मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना के अंतर्गत अब तक नगर पालिक निगम कोरबा क्षेत्र में निवास करने वाले 1822 वरिष्ठ नागरिक विभिन्न तीर्थों की यात्रा कर चुके हैं। वहीं अब 10 जुलाई से 31 अगस्त तक की अवधि में चार तीर्थ यात्राएं करवाए जाने की तिथिवार योजना निगम को पुनः प्राप्त हो चुकी है। इसके तहत निगम क्षेत्र के 102 वरिष्ठ नागरिक यह तीर्थ यात्रा कर सकेंगे।

10 जुलाई से 15 जुलाई तक अजमेर शरीफ, पुष्कर, आगरा, सलीम चिस्ती की दरगाह की यात्रा होगी। इसके अंतर्गत चार हितग्राही व आवेदन करने की तिथि 31 जून रखी गई है। इसी प्रकार 27 जुलाई से 30 जुलाई तक मथुरा जन्मभूमि वृंदावन की यात्रा होगी। इसके लिए 90 हितग्राहियों का लक्ष्य निगम को दिया गया है व आवेदन करने की तिथि 13 जुलाई है। दो अगस्त से पांच अगस्त तक बाबा बैजनाथधाम की यात्रा कराई जाएगी, जिसके तहत चार हितग्राही हैं तथा आवेदन करने की अंतिम तिथि 28 जुलाई रखी गई है। 27 अगस्त से 31 अगस्त तक अमृतसर स्वर्णमंदिर की तीर्थ यात्रा कराई जाएगी। इसके अंतर्गत निगम को चार हितग्राही का लक्ष्य मिला है तथा निगम ने 17 अगस्त तक आवेदन मंगाए हैं।

कर चुके हैं इन तीर्थों की यात्रा

निगम के समाज कल्याण अधिकारी डॉ. शिरिन लाखे ने बताया कि मुख्यमंत्री की इस योजना के अंतर्गत नगर निगम क्षेत्र के वरिष्ठ नागरिकों ने देश के प्रमुख तीर्थों की यात्राएं की हैं। योजना के तहत उज्जैन ओमकारेश्वर, अमृतसर, अजमेर शरीफ फतेहपुर चिस्ती की दरगाह, हरिद्वार ऋषिकेश, भारत माता का मंदिर, मथुरा वृंदावन, सम्मेद शिखर द्वारिका, सोमनाथ नागेश्वर रामेश्वर, मदुराई, तिरुपति, स्वर्ण बेलगोला, शिरडी शनि सिगनापुर, जगन्नाथपुरी भुवनेश्वर, बाबा बैजनाथ धाम, प्रयाग काशी, अमृतसर स्वर्ण मंदिर, वैष्णो देवी जम्मू, बेलांगणी चर्च, नागापट्टनम, बाबाधाम, बोधगया, गंगा सागर बिरला मंदिर कालीघाट, रामेश्वरम, तख्तश्री पटना साहेब, पुरी, कोणार्क, श्रवण बेलगोला जैन समाज आदि की तीर्थ यात्राएं वरिष्ठ नागरिकों को कराई गई है।

ये होंगे योजना के पात्र

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना में आवेदक को छत्तीसगढ़ का मूलनिवासी होना चाहिए। उनकी आयु 60 वर्ष या उससे अधिक हो। 65 वर्ष से ऊपर की आयु के ऐसे नागरिक जो यात्रा पर अकेले जा रहे हैं, उन्हें अपने परिवार के सदस्य को सहायक के रूप में ले जाने की पात्रता होगी। सहायक की उम्र 21 से 50 वर्ष के मध्य होनी चाहिए। यदि पति-पत्नी साथ में यात्रा करते हैं तो सहायक की आवश्यकता नहीं होगी। इस योजना के अंतर्गत पूर्व में यात्रा न की गई हो, तभी आवेदक पात्र होंगे। यात्रा हेतु शारीरिक व मानसिक रूप से सक्षम हों और किसी संक्रामक रोग जैसे टीबी, कांजेस्टिव कार्डियक, श्वास में अवरोध संबंधी बीमारी, कोरोनरी, अपर्याप्तता कोरोनरी थ्रोम्बोसिस, मानसिक व्याधि, संक्रामक कुष्ट आदि से ग्रसित न हों। वर्तमान व भूतपूर्व शासकीय सेवक व आयकरदाता इस योजना के पात्र नहीं होंगे तथा योजना हेतु आवेदक केवल एक ही बार यात्रा के लिए पात्र होंगे।