बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

एंटी रेबीज वैक्सीन बाजार से भी खत्म हो गई है। अब लोकल पर्चेसिंग के माध्यम से सिम्स को वैक्सीन नहीं मिल रही है। ऐसे में बुधवार को 19 मरीज को टीका नहीं लग पाया।

बुधवार की सुबह सिम्स को लोकल पर्चेसिंग से एंटी रेबीज वैक्सीन नहीं मिल पाई। ऐसे में पीड़ितों को बाजार से वैक्सीन लाने को कहा गया। दोपहर एक बजे तक 34 लोगों ने बाजार से वैक्सीन खरीदकर टीका लगवाया। लेकिन एक बजे के बाद आने वालों पीड़ितों को बाजार में भी वैक्सीन नहीं मिली। मरीज सिम्स के आसपास संचालित मेडिकल स्टोरों का चक्कर काटते रहे। अंत में वैक्सीन नहीं मिलने की वजह से 19 पीड़ितों टीके से वंचित हो गए।

जन औषधि केंद्र में भी नहीं

जन औषधि केंद्र में एंटी रेबीज वैक्सनी सिर्फ 225 रुपये में मिल जाती है। लेकिन यहां भी महीनों से वैक्सीन का स्टाक नहीं भेजा गया है। जबकि छह से ज्यादा बार डिमांड भेजा जा चुका है। सीजीएमएसी द्वारा सप्लाई नहीं करने से लोग बाजार से अधिक कीमत पर वैक्सीन खरीदने को मजबूर हैं।

दिल्ली व कोलकाता से नहीं आ रहा स्टाक

जन औषधि केंद्र के लिए वैक्सीन की सप्लाई दिल्ली से होती है। वहीं मेडिकल स्टोर व अस्पतालों में कोलकाता से उपलब्ध कराई जाती है। लेकिन दोनों जगह से पिछलों दो महीने से स्टाक नहीं आया है।

गरीब मरीजों की बढ़ी परेशानी

शासन के ओर से एंटी रेबीज वैक्सीन मुफ्त में लगाई जाती है। ऐसे में गरीब तपके के मरीज सरकारी अस्पतालों में आश्रित रहते हैं। मौजूदा स्थिति में गरीब मरीज महंगी होने के कारण वैक्सीन नहीं खरीद पा रहे हैं। इससे उनका उपचार प्रभावित हो रहा है।

लोकल पर्चेसिंग से भी वैक्सीन नहीं मिल रही है। मरीजों द्वारा खरीद कर लाने पर टीका लगाया जा रहा है।

डॉ. आरती पांडेय

डिप्टी एमएस, सिम्स