अंबिकापुर । केंद्रीय जेल अंबिकापुर में 50 से अधिक कैदी बुखाबर व दस्त से पीड़ित हैं। कुछ बंदियों की गंभीर स्थिति देख जेल अस्पताल से मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर किया गया है। इनमें से एक सजायाफ्ता कैदी की बुधवार की सुबह मौत हो गई। जेल अस्पताल में बेड कम पड़ जाने से बीमार कैदियों को गैलरी में जमीन पर लेटा कर उपचार किया जा रहा है।


सूत्रों के अनुसार केंद्रीय जेल के अस्पताल में 40 बेड है जबकि 50 से अधिक बंदियों के भर्ती होने की जानकारी मिल रही है। केंद्रीय जेल के अधीक्षक राजेंद्र गायकवाड़ का कहना है कि जेल में क्षमता से अधिक कैदियों के रहने और भीषण गर्मी के कारण बुखार व डिसेंट्री की स्थिति बनी है।

इसे डायरिया या फुड प्वाइजनिंग नहीं कहा जा सकता। पीड़ितों को बराबर दवा दी जा रही है। उन्होंने बताया एक बंदी की मौत और 13 बंदियों को मेडिकल कॉलेज रेफर किए जाने की पुष्टि की है। मृतक बंदी जशपुर जिले के कांसाबेल थाना अंतर्गत ग्राम टोंगरीटोला बटईकला निवासी पालन लोहार(27) यौन अपरा के मामले में सजायाफ्ता था।