0 लगभग पखवाड़ेभर पूर्व बलरामपुर के बड़कीमहरी में हुई थी घटना

0 लाठी-डंडे से एक राय होकर मारपीट की थी आरोपियों ने

बलरामपुर । नईदुनिया न्यूज

लगभग पखवाड़े भर पूर्व बलरामपुर थाना क्षेत्र के ग्राम बड़कीमहरी में जमीन विवाद को लेकर ग्रामीण की हत्या करने वाले चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वारदात को दंपती व उसके पुत्र तथा पुत्री ने अंजाम दिया था। घटना के बाद से सभी आरोपी फरार थे। अलग-अलग स्थानों से पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी की है।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक घटना दिवस 23 जून को बड़कीमहरी निवासी देवसाय पिता स्व. दीका चेरवा 36 वर्ष अपने हिस्से की खेत को ट्रेक्टर से जोताई करा रहा था। इसी बीच आरोपी जसपति वहां पहुंची और खेत जोताई का विरोध करने लगी। शिकायत के मुताबिक उसी दौरान अन्य आरोपी मनोहर राम, गुरूदेव प्रसाद व चांदनी डंडा लेकर वहां पहुंचे तथा देवसाय व मृतक ननेंदर चेरवा को हाथ-मुक्का व डंडा से पिटना शुरू किया। घायल अवस्था में ननेंदर पिता ननकू राम चेरवा 55 वर्ष को मेडिकल कालेज अस्पताल अंबिकापुर ले जाया गया था, जहां सिर में आई गंभीर चोट की वजह से 25 जून 2018 को उसकी मौत हो गई थी। घटना की गंभीरता को देखते हुए एसपी टीआर कोशिमा ने आरोपियों के शीघ्र गिरफ्तारी का निर्देश दिया था। एसडीओपी रामानुजगंज नितेश गौतम के मार्गदर्शन में पुलिस ने अंबिकापुर, बड़कीमहरी व पंडरी में छापेमारी कर हत्या के आरोप में मनोहर चेरवा उर्फ मनो पिता मेघन राम चेरवा 55 वर्ष, गुरूदेव प्रसाद पिता मनोहर राम चेरवा 25 वर्ष, चांदनी पिता मनोहर राम चेरवा 23 वर्ष, जसपति देवी पति मनोहर राम चेरवा 51 वर्ष को धारा 302, 294, 506, 323, 34 आईपीसी के तहत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। आरोपियों की गिरफ्तारी में निरीक्षक सीताराम धु्रव, उपनिरीक्षक श्रवण कुमार चौबे, संपत राम पोटाई, एएसआई राजेश कुमार, प्रधान आरक्षक सौकीलाल राज, आरक्षक नारद राजपूत, विनोद यादव, प्रेमप्रकाश सिंह, रूबेन लकड़ा, दिगंबर यादव, महेंद्र गुप्ता, रंजन सिंह, आलोक कुमार सिंह, बेलसाजर कुजूर, कृष्णा हालदार, रमकल मरावी, पद्मा यादव, उदयभान दुबे आदि सक्रिय रहे।