0 पिता पुत्र के खिलाफ पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई

पटना/बैकुंठपुर । नईदुनिया न्यूज

कोरिया जिले के पटना थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत छिंदिया निवासी एक ग्रामीण के घर में दबिश देकर बुधवार शाम पुलिस ने भारी मात्रा में नशीली दवाएं एवं गांजा बरामद किया गया। जिसकी बाजार वेल्यू लगभग 60 हजार रुपए बताई जा रही है।

मिली जानकारी के अनुसार छिंदिया निवासी प्रभुराम पिता मोहर साय कुशवाहा 60 वर्ष एवं उसका पुत्र भीम कुशवाहा काफी समय से क्षेत्र में नशीली दवा एवं गांजा बेचने का काम कर रहे थे। जिसकी जानकारी मिलने पर थाना प्रभारी आनंद सोनी, प्रशिक्षु उप निरीक्षक राकेश वर्मा, सउनी हरिशंकर सिंह, प्रधान आरक्षक शशी भूषण, महिला आरक्षक कृष्ण कान्ति कुशवाहा, राधेकृष्ण साहू तथा सैनिक महेन्द्र कुमार सोनवानी की टीम बनाकर आरोपी के घर में बुधवार शाम दबिश दी। जहां से 1 किलो 750 ग्राम गांजा, 360 नग स्पाईजमो कैप्सूल, 120 नग स्पासोरिड कैप्सूल, 307 नग एविल इंजेक्शन 10 एमएल, 152 नग सिरिजैक, 308 नग रेक्सोजेसिक इंजेक्शन, 8 नग डिस्पोजल सिरिंज तथा 14 नग निडिल व 500 रुपए नकद बरामद किया गया। जिसकी कीमत 60 हजार रुपए बताई जा रही है। पुलिस ने आरोपी प्रभुराम कुशवाहा एवं भीम कुशवाहा के विरुद्घ एनडीपीसी एक्ट के तहत अपराध दर्ज करते हुए न्यायालय भेजा दिया।

2 साल पहले ग्रामीणों ने चलाया था नशामुक्ति अभियान

नशीली दवाओं एवं मादक पदार्थ की बिक्री के लिए बदनाम होने के बाद छिंदिया के ग्रामीण एकजुट होकर करीब 2 वर्ष पूर्व नशा मुक्ति अभियान चलाया था। जिससे गांव में नशे के कारोबार पर अंकुश लग गया था। लेकिन धीरे-धीरे फिर कारोबारी सक्रिय हो गए हैं।

पहले भी पकड़ा जा चुका है भीम

मिली जानकारी के अनुसार नशीली दवाओं व गांजे के साथ पकड़ा गया भीम कुशवाहा लंबे समय से मादक पदार्थों की बिक्री का काम करता रहा है। वह करीब 3 बार नशीली दवाओं के साथ पुलिस के हत्थे चढ़ चुका है। उसके इस धंधे से क्षेत्र के ग्रामीण काफी परेशान थे।