बालोद। नईदुनिया न्यूज

विधानसभा चुनाव के बाद अब लोकसभा चुनाव भी बालोद जिले में बेहद ही शांतिपूर्ण तरीके से हो चुके हैं। अब केवल परिणाम आना बाकी है। चुनाव को लेकर बेहद ही ईमानदारी से अपने दायित्वों का निर्वाह करने वाले विभागीय अधिकारियों के साथ-साथ सभी पुलिस विभाग के कर्मचारियों को मैं बधाई देता हूं। इसके साथ ही में अपेक्षा करता हूं कि चुनाव के दायित्वों से निवृत्त होने के बाद अब हमें वापस बेसिक पुलिसिंग की ओर आना होगा। बालोद जिले को अपराध मुक्त बनाने के साथ-साथ जिले में चल रहे अवैध कारोबार को रोकना होगा। जिस तरीके से आप सब ने चुनाव में ईमानदारी से अपने दायित्वों का निर्वाह किया है तो उसी तरह अब बेसिक पुलिसिंग को लेकर भी अपने दायित्वों का निर्वाह करना है। उक्त बातें जिला पुलिस अधीक्षक एमएल कोटवानी ने जिले भर के पुलिस अधिकारियों के साथ की गई बैठक के दौरान कही।

बैठक में एसपी ने जहां जिले भर के थानेदारों की हौसला अफजाई की तो वहीं चुनाव समाप्ति के बाद किसी भी तरह के अवैध कारोबार न चलने की हिदायत दी। शिकायत आने पर संबंधित क्षेत्र के थाना प्रभारी पर कार्रवाई किए जाने की चेतावनी के बाद अधिकारियों की बीच जमकर चर्चा होती रही। उल्लेखनीय है कि जिला प्रशासन के साथ-साथ पुलिस प्रशासन भी चुनाव को लेकर लगातार व्यस्त रहा है। नक्सल प्रभावित जिला होने के कारण जिला प्रशासन के साथ-साथ पुलिस प्रशासन के लिए एक बड़ी चुनौती रही है। लगातार जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन की सक्रियता के चलते जिले में शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव हो गए हैं। चुनाव होते ही एसपी ने जिले भर के समस्त थानेदारों की बैठक आहूत करने के साथ ही कानून व्यवस्था को सुदृढ; बनाए रखने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

जुआ व सट्टा व चखना दुकानों पर करें सख्ती

एसपी ने स्पष्ट तौर पर चेतावनी दी है कि जिले में जुआ, सट्टा के कारोबार के साथ-साथ चखना दुकान एवं शराब दुकान के ऊपर कड़ी कार्रवाई की जाए। वहीं स्कूल के पास मजनूओं पर भी सख्ती करने की बात कही।

पेंडिंग मामलों की मंगाई सूची

बैठक के दौरान एसपी ने पेंडिंग मामलों लेकर त्वरित निराकरण के लिए निर्देश दिए। वहीं स्पष्ट तौर पर चेतावनी दी है कि किसी भी शिकायतकर्ता को थाने से निराश होकर न जाने दिया जाए। पेंडिंग मामलों के साथ-साथ प्रत्येक थानेदारों को निर्देशित किया गया है कि लगभग हर शिकायतकर्ता से सीधी मुलाकात करने के साथ ही उनके साथ अच्छा व्यवहार किया जाए ताकि आम जनता के मन में पुलिस के प्रति विश्वास बना रहे।

पेयजल की व्यवस्था का लिया जायजा

एसपी ने समस्त थानेदारों को समस्त थानों एवं चौकियों में बेहतरीन पेयजल की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही साथ आने जाने वाले लोगों के लिए मटके रखवाने के निर्देश दिए हैं ताकि लोग विभागीय कर्मचारियों के साथ-साथ आने-जाने वाले लोगों को भी भारी गर्मी में राहत मिल सके।

शातिरों में खलबली

चुनाव निपटने के बाद एसपी की बैठक से शातिर किस्म के लोगों के बीच खलबली मच गई है। वहीं इस बात को लेकर भी चर्चा है कि चुनाव में व्यस्त रहने वाली पुलिस अब वापस बेसिक पुलिसिंग पर लौटेगी तो निश्चित ही कई हाईप्रोफाइल लोगों की कुंडली खंगालने के साथ ही कानून व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने में अहम भूमिका निभाएगी।