बालोद। नईदुनिया न्यूज

प्रदेश की महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण मंत्री अनिला भेंड़िया डौण्डीलोहारा विकासखंड के ग्राम कोरगुड़ा में आयोजित परिक्षेत्र स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के समापन समारोह में शामिल हुई। उन्होंने प्रतिभागी छात्र-छात्राओं को अपनी शुभकामनाएं दी और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

मंत्री भेड़िया ने समापन समारोह को संबोधित कर प्रतिभागी छात्र-छात्राओं का मनोबल बढ़ाया। उन्होंने कहा कि हार-जीत खेल का हिस्सा है। हारने वाले खिलाड़ियों को निराश नहीं होना चाहिए। मेहनत और लगन से निश्चित सफलता मिलती है। उन्होंने प्रतिभागी छात्र-छात्राओं से कहा कि वे खेलों में कड़ी मेहनत करें और उत्कृष्ट प्रदर्शन कर अपने माता-पिता, जिला व प्रदेश का नाम रोशन करें। मंत्री भेंड़िया ने छात्र-छात्राओं से कहा कि वे खेल के साथ लगनपूर्वक पढ़ाई भी करें। उन्होंने अभिभावकों से कहा कि वे अपनी बेटियों को उधा शिक्षा दिलाएं।

मंत्री अनिला भेंड़िया ने ग्रामीणों की मां पर ग्राम कोरगुड़ा में मंगल भवन की घोषणा की। जिला शिक्षा अधिकारी आशुतोष चावरे ने बताया कि ग्राम कोरगुड़ा में आयोजित परिक्षेत्र स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता में 58 प्राथमिक शाला और 28 पूर्व माध्यमिक शाला सहित 86 स्कूलों के 1800 प्रतिभागी छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य अभिषेक शुक्ला सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, एसडीएम जीएल यादव, महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण विभाग के अधिकारी, शिक्षक़, छात्र-छात्राएं और बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।