बालोद। नईदुनिया न्यूज

नई सरकार के आते ही नई प्रशासनिक व्यवस्थाएं बनने लगी है सरकार की सोच के अनुरूप टाइट पुलिसिंग को लेकर लगातार फेरबदल करने के साथ ही आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए जा रहे हैं। इसी तारतम्य में जिला मुख्यालय बालोद के पुलिस लाइन में पुलिस कर्मचारियों सहित उनके परिवारों के स्वास्थ्य परीक्षण का आयोजन किया गया। जिसमें चार सौ से अधिक पुलिस कर्मचारी और अधिकारियों ने स्वास्थ्य परीक्षण कराया। तो वहीं लगभग 350 पुलिस कर्मियों के परिजनों ने भी स्वास्थ्य शिविर में भाग लेकर परीक्षण कराया। आइजी के निर्देश पर हुई पुलिस कर्मियों के लिए बड़े पैमाने में स्वास्थ्य परीक्षण किये जाने का यह पहला अवसर है। जिसमें न्यूरो फिजिशियन, हार्ड स्पेशलिस्ट, यूरोलॉजिस्ट जैसे बड़े रोगों के विशेषज्ञ भी शिविर में पहुंचे थे। विशेषज्ञ डॉक्टरो डॉ. राजीव साहू, डॉ. सीएम सिंह, डॉ. कमलकांत आदिले, डॉ. निशांत सिंह चंदेल द्वारा नि शुल्क स्वास्थ्य सलाह प्रदान किया गया। जिसके चलते सारा दिन आज पुलिस लाइन में गहमा गहमी का माहौल बना रहा।

इधर जिला मुख्यालय बालोद के साथ राज्यभर की पुलिसिंग को चुस्त-दुरुस्त किए जाने के निर्देश के बाद दुर्ग रेंज के आइजी रतनलाल डांगी ने टाइट पुलिसिंग के निर्देश देने के साथ ही पुलिस महकमे में सभी कर्मचारियों के मेडिकल जांच के निर्देश दिए थे। आइजी के निर्देश के बाद बालोद जिला पुलिस अधीक्षक जेआर ठाकुर ने सर्वप्रथम अमल करते ही आदेश के 48 घंटे के बाद जिलेभर के थाना प्रभारियों के साथ महिला और पुलिसकर्मियों के स्वास्थ्य परीक्षण कराए। जिसमें कुछ की स्थिति गंभीर नजर आयी। तो उनकी अलग सूची तैयार की गई। तो वहीं 100 प्रतिशत चुस्त-दुरुस्त लोगों की भी सूची तैयार की गई है। जिन्हें पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। उल्लेखनीय है कि दो दिन पूर्व आइजी रतनलाल डांगी आकस्मिक बालोद जिला दौरे पर आए थे। उन्होंने एसपी को निर्देशित किया था कि अच्छी पुलिसिंग के लिए अच्छे लोगों के साथ अच्छे स्वास्थ्य की भी आवश्यकता है। टाइट पुलिसिंग के लिए जिलेभर के पुलिस जवानों का मेडिकल जांच कराया जाए। आइजी के इस आदेश पर अमल करते हुए जिला पुलिस अधीक्षक जेआर ठाकुर ने रायपुर से संकल्प हॉस्पिटल संपर्क कर डॉक्टरों की पूरी टीम को बुलाया।