बालोद। नईदुनिया न्यूज

ग्राम नागाडबरी में तीन दिवसीय पांच कुंडीय यज्ञ का आयोजन हुआ। ग्राम के गायत्री परिवार एवं ग्रामवासियों के सहयोग से विगत तीन वर्षों से यह कार्यक्रम प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है। साथ ही क्वांर एवं चैत्र नवरात्रि में मां गायत्री की पूजन किया जाता है। प्रथम दिन कलश यात्रा के साथ यज्ञ प्रारंभ हुआ। प्रज्ञा पुराण की कथा पीताम्बर निषाद के द्वारा नारी जागरण के अंतर्गत महासतियों का कथा बताया गया। महासति चामुना की कथा बताते हुए उनकी शिव भक्ति पर आस्था एवं दृढ़ संकल्प की कथा सुनाई गई। रात्रि में दीप यज्ञ के साथ दीप जलाने का महत्व बताया गया। अंतिम दिन पूर्णाहुति के साथ विभिन्ना संस्कारों में पुंसवन संस्कार मुंडन संस्कार एवं दीक्षा दी गई। ग्राम प्रज्ञा मंडल के अध्यक्ष रामनारायण साहू ने बताया कि इस प्रकार के आयोजन से ग्राम में सुख समृद्घि एवं संस्कार आता है। ग्राम में मिलाप साहू, दौलत साहू, भागीराम साहू, रत्तीराम साहू, गजाधर साहू, फत्तेराम साहू, दर्शन लाल साहू, किशोरी साहू, डोमार साहू, बीआर साहू, डीआर साहू, जगजीवन साहू, राधे लाल, अंजनी साहू, मानकुंवर साहू, उर्मिला साहू, जयंती साहू, दशरी बाई, कुंती बाई, परमेश्वरी, नीता साहू, बेगा बाई, पद्मनी साहू, केजा बाई यादव, उमा गंजीर, दिरबी सोनवानी, डुमन लाल, चित्रकांत यादव, नेतराम भास्कर साहू का सहयोग कार्यक्रम को सफल बनाने में रहा।