बालोद। नईदुनिया न्यूज

छत्तीसगढ़ी फिल्म गंगरेल बनाकर पैसा कमाना हमारा उद्देश्य नहीं, खेती करने में किसानों को हो रहे कठिनाइयों को फिल्म के माध्यम से अवगत करना हमारा उद्देश्य है।

जिला मुख्यालय में स्थित शिकारीपारा कबीर मंदिर में आज प्रेसवार्ता रखकर बन रहे छत्तीसगढ़ी फिल्म गंगरेल को लेकर प्रोड्यूसर छन्नाूलाल साहू ने बताया कि छत्तीसगढ़ी फिल्म बनाकर पैसा कमाना हमारा उद्देश्य नहीं है बल्कि खेती के समय पानी और अन्य समस्या को लेकर किसानों को क्या-क्या परेशानियों से जूझना पड़ता है इन परेशानियों को लेकर यह फिल्म बनाई जा रही है। ताकि लोगों को पता चल सके कि किसान कितनी तकलीफ से धान उगाते हैं। गंगरेल फिल्म की शूटिंग ग्राम पौरी, गंगरेल, बालोद तांदुला जलाशय सहित मुंबई में भी इस फिल्म की शूटिंग चल रही है। फिल्म के डायरेक्टर अभिनव कुमार सिंह ने बताया कि इस फिल्म को छत्तीसगढ़ व हिंदी मराठी भाषा में रूपांतरण किया जाएगा। फिल्म तीन माह के अंतर्गत रिलीज हो जाएगी। प्रेस वार्ता के दौरान उपस्थित फिल्म की हीरो रामबाबू, हीरोइन ईश्वरी साहू, विष्णु राम साहू, रामाधार साहू, देव कुमार साहू, मोरध्वज साहू, जितेंद्र कुमार शर्मा, सहित अन्य कलाकार अनिरुद्घ साहू, नेमीचंद, नरेंद्र यादव, कृष्णा साहू, मोना साहू, रॉकी साहू, श्रेया साहू सहित अन्य कलाकार उपस्थित थे।