बेमेतरा। नईदुनिया न्यूज

नवरात्रि के महा अष्टमी पर्व की पूजा-अर्चना हवन पूजन होने के बाद आज देवी मंदिरों में प्रज्ज्वलित मनोकामना ज्योति विसर्जित किया गया। वहीं गांव-गांव में जवांरा विसर्जन किया गया। विदित हो कि चैत्र नवरात्रि पर गांव-गांव में माता शीतला के मंदिर में जहां जवांरा मनोकामना ज्योति प्रज्ज्वलित किये जाते हैं। वहीं महा अष्टमी के हवन पूजन के बाद बड़े ही भाव व श्रद्धा के साथ विसर्जन भी किया गया।

इस अवसर पर श्रद्घालुओं ने माता के भक्ति में लीन होकर जसगीत की धून में झूमे नजर आए। नवरात्रि के समापन में एक तरह से गांव-गांव में श्रद्घा भक्ति की बयार बहती है। कुछ इसी तरह के हालात बेमेतरा शहर सहित समूचे ग्रामीण में देखने को मिला। मांदर की थाप में जस गीत के साथ पूरे ग्रामीण जहां जवांरा विसर्जन के लिए निकले। इसके अतिरिक्त महा अष्टमी पर्व की हवन पूजन के बाद देवी मंदिरों व श्रद्धालुओं ने कन्याओं का भोजन कराया गया।