बेमेतरा। नईदुनिया न्यूज

लोकसभा चुनाव के अंतर्गत मतगणना कार्य के लिए नियुक्त माइक्रो आब्जर्वर का प्रशिक्षण बुधवार को जिला पंचायत सभागृह में आयोजित किया गया। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी महादेव कावरे ने प्रशिक्षणार्थियों को कहा कि मतगणना कार्य के लिए प्रशिक्षण को गंभीरता से लें। डाटा एंट्री का कार्य सही तरीके से करेंगे।

जिले के प्रत्येक विधानसभा के लिए 14 टेबल लगेगी। कलेक्टर ने अधिकारियों को मतगणना के कार्य को पूरी सजगता के साथ करने के निर्देश दिए। माइक्रो आब्जर्वर जल्दबाजी व हड़बडी में मतगणना कार्य बिलकुल नहीं करेंगे। उन्होंने प्रशिक्षण के दौरान इलेक्ट्रानिक वोटिग मशीन, वीवीपीएटी मशीन से मतगणना, मतपत्र लेखा भाग दो, प्रारूप 18, गणना अभिकर्ता की नियुक्ति , प्रारूप 19, गणना अभिकर्ता की नियुक्ति का प्रति सहरण, प्रारूप-20 अंतिम परिणाम पत्र, प्रारूप 21 सी, ई-निर्वाचन की विवरणी, प्रारूप-22 निर्वाचन का प्रमाण-पत्र आदि के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई। इसके साथ ही अधिकारियों को कंट्रोल यूनिट की गणना व वीवीपीएटी की पर्ची की गणना के दौरान पेन, पेसिंल, केलकुलेटर, लाटरी हेतु कार्ड, कामन एडेन्नास टेक, क्यू आर कोड स्केनर आदि रखने तथा उनके उपयोग के बारे में जानकारी दी गई। 23 मई को सुबह आठ बजे मतगणना कार्य आरंभ हो जाएगा। इसके पहले प्रेक्षक तथा अभ्यर्थियों व उनके अभिकर्ताओं की उपस्थिति में सुबह आठ बजे स्ट्रांग रूम खोला जाएगा। माइक्रो आब्जर्वर की ड्यूटी प्रत्येक टेबल में रहेगी। मास्टर ट्रेनर्स भानूप्रकाश सोनी ने निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के अनुरूप पावर पाईन्ट प्रजेन्टेशन के जरिए विस्तारपूर्वक प्रशिक्षण दिया। इस अवसर पर अपर कलेक्टर एसआर महिलांग, उप जिला निर्वाचन अधिकारी आरपी आचला, डिप्टी कलेक्टर डीआरे डाहिरे, लीड बैंक ऑफिसर पी ओड़िया, एएसओ रोहित सोनी उपस्थित रहे।