देवकर। नईदुनिया न्यूज

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन योजना अंतर्गत विगत मंगलवार को नगर निकट ग्राम डेहरी में स्थानीय आंचलिक कृषक ग्रामीणों के लिए कृषक प्रशिक्षण शिविर लगाया। जिसमें पूरे आंचलिक क्षेत्र से डेहरी पहुंचे। किसान बंधुओं को कृषि संबंधित खाद्य सुरक्षा पर विस्तृत जानकारी दी गई। साथ ही कार्यक्रम में उपस्थित क़ृषि अधिकारियों ने छत्तीसगढ़ सरकार के नरवा, गरवा, घुरूवा और बारी के नारे को दोहराकर उनके संरक्षण के उपाय बताकर उनके किफायती महत्व को भी गिनाये।

इस दौरान आंचल के किसानों इस दौरान काफी सवाल किए। जिनका कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा स्पस्टीकरण कर जवाब दिया गया। इस प्रकार काफी सारे तथ्यों का उदाहरण देकर खाद्य सुरक्षा मिशन योजना के अंतर्गत सारे घटनाक्रम की विस्तारपूर्वक जानकारी ग्रामीण किसानों को दी गयी। साथ ही विशेष रूप से कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों व अधिकारियों का स्थानीय ग्रामीण कृषकों द्वारा भव्य स्वागत किया गया। इस अवसर पर अतिथियों में ग्राम सरपंच-ईदू मोहम्मद (नवकेशा पंचायत), उपेंद्र हंसा (पूर्व सरपंच सहसपुर), झग्गर देवांगन (अध्यक्ष-सेवा सहकारी समिति), जगतारण बंजारे (समिति-उपाध्यक्ष), रामसिंह यादव (भूतपूर्व सरपंच नवकेशा), कृष्णा सिन्हा, वहीं शिविर में कृषि अधिकारियों में अनुविभागीय कृषि अधिकारी राजकुमार सोलंकी, सहायक कृषि संचालक शिंदे सर, वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी साजा विकासखण्ड एडी दुबे, कृषि विकास अधिकारी नागवंशी सर व ठाकुर, ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी आनंद यादव (डेहरी) व नीलेश साहू(देवकर), कृषि वैज्ञानिक मोदी (कीट रोकथाम विभाग), नेताम (प्रकोप-रोग रोकथाम विभाग), किसान संगवारी(परिक्षेत्र)- शंकर सिन्हा इत्यादि इस दौरान उपस्थित रहे।