बेमेतरा। नईदुनिया न्यूज

देवकर थाना अंतर्गत सात अप्रैल को सुरजन निषाद तालाब के पास बरगद के पेड़ के पास आत्महत्या कर लिया। इधर पुलिस को जानकारी होने के बाद मर्ग कायम कर विवेचना में ले तो लिया है। किंतु मृतक के पत्नी अंजनी बाई निषाद और पुत्र भूषण निषाद ने पुलिस को मृतक द्वारा लिखे गए सुसाइड नोट भी दिया गया है। जिसमें मृतक सुरजन निषाद ने अपनी मौत के कारण प्रताड़ना करने का उल्लेख किया है। हालांकि उक्त सुसाइड नोट में बेमेतरा के एक कपड़ा व्यापारी और उनके भाइयों का नाम उल्लेख किया गया है। जिसमें आरोप है कि इन व्यापारी द्वारा 60 हजार की जगह पांच लाख रुपये की वसूली का है। किंतु अब तक उक्त सुसाइड नोट पर पुलिस द्वारा समुचित कार्रवाई नहीं होने से कई तरह चर्चा है। परिजन ने आरोप लगाया गया है कि कहीं न कहीं रसूखदार व्यवसायी को बचाने के लिए यह मामला जांच के नाम पर खींचा तो नहीं जा रहा है। अब सवाल उठता है कि मृतक द्वारा लिखे गए सुसाइड नोट और उनके परिजनों द्वारा दिए गए उक्त सुसाइड नोट जब पुलिस के हाथ पहुंच चुकी है तो अब तक उस पर समुचित कार्रवाई क्यों नहीं हो परा रही है।

सुसाइड नोट परिजनों द्वारा दिया गया है। जिसकी जांच की जा रही है। जांच पूरा होने पर समुचित कार्रवाई की जाएगी।

प्रशांत सिंह ठाकुर, पुलिस अधीक्षक बेमेतरा