भिलाई। नईदुनिया प्रतिनिधि

सीटू नेता पर हमले की साजिश ठेकेदार ने अपने सुपरवाइजर के साथ मिलकर रची थी। बुधवार मामले का पर्दाफाश हो गया। मामले में ठेकेदार सहित छह लोग गिरफ्तार किए गए हैं। एक आरोपित फरार बताया जा रहा है।

बता दें कि बीते सात मई को बीएसपी के मजदूर संगठन सीटू के श्रम प्रकोष्ठ के महासचिव योगेश सोनी पर जानलेवा हमला कर दिया गया था। घटना के दिन योगेश ड्यूटी पर जा रहा था, तभी चोपड़ा पेट्रोल पंप रिसाली के पास दो मोटर साइकिल पर सवार युवकों ने योगेश पर धारदार हथियार से हमला कर दिया था। स्थानीय लोगों ने योगेश को सेक्टर-9 अस्पताल पहुंचाया। जहां उपचार जारी है। मामले में कोतवाली पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धारा 323, 294, 506, 34 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दिया था।

डीजीपी ने दिए थे सख्त निर्देश

मजदूर संगठन से जुड़ा होने के कारण मामला बेहद संगीन था। लिहाजा स्वयं डीजीपी ने आइजी दुर्ग को मामले का जल्द से जल्द पर्दाफाश करने के निर्देश दिए थे। पुलिस को दिए बयान में श्रमिक नेता योगेश सोनी ने हमले की पीछे ठेकेदार का हाथ होने की आशंका जाहिर की थी। एसपी दुर्ग प्रखर पाण्डेय ने जांच की जिम्मेदारी एडीशनल एसपी रोहित झा को सौंपी थी। रोहित झा की टीम ने हर पहलू पर जांच की।

सीसी टीवी फुटेज से मिला सुराग

जांच टीम ने मौका मुआयना किया। घटना स्थल पर लगे सीसी टीवी फुटेज खंगाले। आसपास के लोगों से बयान लिया। घटना के समय घटना स्थल के आसपास सक्रिय मोबाइल नंबरों को ट्रेस किया। पुलिस को सीसी टीवी फुटेज में दो संदेहियों के बारे में महत्वपूर्ण सुराग मिला। इस आधार पर संदेही आर सेमुवल तथा अक्की उर्फ नागार्जुन को हिरासत में लिया। दोनों ने पूछताछ में सारा राज उगल दिया।

ठेकेदार ने दी थी सुपारी

बुधवार को पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित पत्रवार्ता में एसपी प्रखर पाण्डेय ने बताया कि सीटू नेता पर हमले की साजिश ठेका एजेंसी सुधांशु ब्रदर्स के संचालक सुधांशु खंडेलवाल तथा उसके सुपरवारइज गोविंद साहू ने रची थी। गोविंद साहू हत्या के प्रयास में सजायाफ्ता है। गोविंद ने आरोपित के बेंजामिन, आर. सेमुवल, नागार्जुन उर्फ अक्की, वाय नागराज उर्फ नागू, चीकू हियाल से संपर्क किया था। गोविंद ने इनसे कहा था कि वह योगेश सोनी से परेशान हैं तथा उसे सबक सिखाना चाहता है। गोविंद के कहने पर ही इन पांचों युवकों ने योगेश सोनी पर हमाल किया था।

छह गिरफ्तार, एक फरार

पुलिस ने योगेश सोनी पर हमले की साजिश रचने के आरोप में सुधांशु ब्रदर्स के संचालक सुधांशु खंडेलवाल, सुपरवाइजर गोविंद साहू सहित आर. समुवल, नागार्जुन उर्फ उक्की, वाय नागराज उर्फ नागू, चीकू हियाल को गिरफ्तार कर लिया है। एक आरोपी बेंजामिन फरार है। पुलिस के मुताबिक आर सेमुवल व के बेंजामिन पूर्व में हत्या के आरोपी रह चुके हैं। पुलिस ने हमले में प्रयुक्त दो मोटर साइकिल (सीजी 04 एलइ 7919) तथा (सीजी 07 जेडआर 0584) व एक एक्सयूवी (सीजी 04 एमएन 6825) को जब्त कर लिया है। वहीं आरोपियों की निशानदेही पर हमले में प्रयुक्त हथियार भी बरामद कर लिया है। आरोपियों के इकबालिया बयान के बाद धारा 307 (हत्या का प्रयास) तथा 120 बी (षड्यंत्र रचना) का मामला और जोड़ दिया है। फरार आरोपी बेंजामिन की तलाश के लिए टीम भेजी गई है।