भिलाई / दुर्ग। पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी बाजपेयी और कांग्रेस पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी जैसे शख्सियत के खाने का स्वाद चख चुके डॉ. एसएन दत्ता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खानपान की भी जांच करेंगे। पीएम मोदी कुछ भी खाएंगे या पीएंगे उसके पहले डॉ. दत्ता खुद इसका इस्तेमाल कर जांचेंगे के यह ठीक है या नहीं। उसके बाद भी पीएम मोदी को यह सर्व किया जाएगा।

डॉ. दत्ता जिला अस्पताल के वर्तमान आरएमओ और दंत रोग विशेषज्ञ हैं। जब भी कोई वीआईपी इस शहर में आता है। खानपान की जांच में इन्हें जिम्मेदारी सौंपी जाती है। इस बार भी प्रधानमंत्री मोदी के आगमन पर इस कार्य के लिए ड्यूटी लगाई गई है।

मोदी खाएंगे मठरी और कार्यकर्ता चना-मुरा

पीएम मोदी अदरक की चाय के शौकीन हैं। वह भी गुजराती चाय। इसे विशेष तौर से बीएसपी में तैयार कराने का इंतजाम कर चुका है। पीएम आधे घंटे तक प्लांट में रहेंगे, इसलिए गर्मी को देखते हुए ठंडे के रूप में उन्हें जामुन का जूस और नारियल पानी दिया जाएगा।

रैली में पहुंचने वाले कार्यकर्ताओं को सुबह नाश्ते में चना-मुर्रा और भोजन में पूड़ी-सब्जी के पैकेट परोसे जाएंगे। भोजन का मेन्यू पीएमओ के दिशा-निर्देश पर तय किया गया है।

भिलाई इस्पात संयंत्र के बेस कीचन में भारी सुरक्षा के बीच पीएम का नाश्ता, शरबत तैयार किया जाएगा। इसमें गुजराती अदरक की चाय, जामुन का रस, नारियल पानी पीएम के पहुंचते ही परोसा जाएगा। इसके चंद मिनट बाद छत्तीसगढ़ी व्यंजन मठरी और गुजराती ढोकला व खांडवी परोसा जाएगा।