भिलाई। चुनाव से ठीक पहले केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार को छत्तीसगढ़ में सड़कों के लिए 40 हजार करोड़ की नई परियोजनाओं की घोषणा की। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के लिए जो मांगा गया, मैंने दिया। कुछ और बचा है तो वो भी मांग लो डॉक्टर साहब। समारोह में उन्होंने 4,251 करोड़ रुपए की आठ राष्ट्रीय राजमार्ग और रायपुर-भिलाई के बीच फ्लाईओवर का लोकार्पण व भूमिपूजन भी किया।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि पेट्रोलियम मंत्रालय इथेनॉल फैक्ट्री लगा रहा है, जिसकी मदद से डीजल 50 रुपए में और पेट्रोल मात्र 55 रुपए में मिल सकेगा। उन्‍होंने कहा कि फिलहाल देश में पेट्रोलियम मंत्रालय इथेनॉल बनाने के लिए पांच प्लांट लगा रहा है। लकड़ी की चीजों और कचरे से इथेनॉल बनाया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हम आठ लाख करोड़ रुपए के पेट्रोल और डीजल आयात कर रहे हैं और इसकी कीमतें बढ़ रही हैं। मैं पिछले 15 सालों से कह रहा हूं कि देश के किसान, आदिवासी और वनवासी एथनॉल, मेथनॉल, जैव ईंधन का उत्पादन कर सकते हैं और विमान उड़ा सकते हैं।

इस दौरान भिलाई-चरोदा निगम क्षेत्र के चरोदा स्थित दशहरा मैदान में सोमवार को राष्ट्रीय राजमार्ग एवं छत्तीसगढ़ लोक निर्माण विभाग द्वारा शिलान्यास व लोकार्पण समारोह का आयोजन किया गया। गडकरी इसमें बतौर मुख्य अतिथि मौजूद थे।

हजारों करोड़ की सौगात देते हुए इस मौके पर उन्होंने कहा कि प्रदेश के 17 शहरों में बायपास बनने के बाद यहां की पुरानी भीतरी सड़कों का डामरीकरण, रायगढ़-धर्मजयगढ़ के बीच नई सड़क, सीआरटी की पांच सड़क सहित राजनांदगांव, बेमेतरा, कवर्धा, जगदलपुर और लखनपुर में भी सड़कों का जाल बिछेगा।

चुनाव के नजरिए से उन्होंने कहा कि देश में छत्तीसगढ़ का अहम स्थान है। उन्होंने छत्तीसगढ़ के किसानों को बॉयो फ्यूल की ओर आकर्षित करने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि जेट्राफा, साल, करंज की खेती किसानों को विकास की ओर ले जा सकती है।