भिलाई, नईदुनिया प्रतिनिधि। शादी के करीब चार साल बाद एक विवाहिता ने अपने पति के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया है। प्रार्थिया का आरोप है कि उसके पति ने पांच लाख रुपये के लिए उसे घर से निकाल दिया। इसके बाद वह अपने मायके लौट आई। जहां उसने महिला थाना दुर्ग में शिकायत की। वहां पर दोनों पक्षों के बीच काउंसलिंग भी हुई, लेकिन सुलह का कोई रास्ता नहीं निकला। इसके बाद महिला थाना पुलिस ने राजनांदगांव जिले के बसंतपुर थाने को मामला सौंप दिया। जिसके बाद आरोपित पति के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है।

पुलिस के मुताबिक सेक्टर-6 निवासी प्रार्थिया शिखा सोनी (29) की शादी सात दिसंबर 2015 को राजनांदगांव के बसंतपुर थाना क्षेत्र के नंदई चौक निवासी आरोपित सुमित कुमार सोनी के साथ हुई थी। प्रार्थिया शिखा सोनी ने अपनी रिपोर्ट में पति पर आरोप लगाया कि शादी के एक माह बाद ही उसके पति ने छोटी-छोटी बातों को लेकर उससे विवाद शुरू कर दिया था। दहेज में कम रुपये लाने की बात को लेकर उससे मारपीट करता था। प्रार्थिया ने यह भी आरोप लगाया कि उसका पति उसके चरित्र पर भी लांछन लगाता था और उससे मारपीट करता था।

प्रार्थिया की एक बेटी हुई और पांच मई 2018 को उसके पहले जन्मदिन पर आरोपित ने उससे रुपये लाने की बात कही। प्रार्थिया ने आरोप लगाया कि रुपये न लाने की स्थिति में उसके पति ने बेटी का जन्मदिन मनाने से इनकार कर दिया था और मारपीट कर उसे घर से निकाल दिया। इसके बाद प्रार्थिया अपने मायके लौट आई और महिला थाने में शिकायत की। जहां दोनों पक्षों के बीच काउंसलिंग कराई गई, लेकिन समझौता न होने पर मामला दर्ज करने के लिए बसंतपुर थाने में प्रकरण भेजा गया।

हुई थी काउंसलिंग

शिकायत के बाद दोनों पक्षों के बीच काउंसलिंग कराई गई थी, लेकिन उसमें समझौता नहीं हुआ। घटना स्थल बंसतपुर थाना था। इसलिए एफआइआर के सीधे वहीं पर फाइल भेज दी गई। -सी तिर्की, टीआई महिला थाना दुर्ग