भिलाई। नईदुनिया प्रतिनिधि

भिलाई स्टील प्लांट में फिर हादसा हो गया। कोक ओवन की करीब दो किलोमीटर गैलरी में आग लगने से अफरातफरी मच गई। आसमान में धुआं ही धुआं नजर आ रहा था। गैलरी में आग लगने से ब्लास्ट फर्नेस-8 और पॉवर प्लांट-1 में कोल की सप्लाई ठप हो गई। इन दोनों जगहों पर कोल स्टाक में होने के कारण प्रोडक्शन अप्रभावित रहा। फिलहाल, कन्वेयर बेल्ट सहित करोड़ों के मटेरियल का नुकसान होने की बात कही जा रही है।

कोक ओवन के सीपीपी-2 एरिया में शुक्रवार भोर में करीब पांच बजे आग लगी। गैलरी नंबर-11 के कन्वेयर बेल्ट नंबर-166, 167, 168, 169 में आग लगने से चार कन्वेयर बेल्ट जल गई। इसी रूट से एशिया के सबसे बड़े ब्लास्ट फर्नेस-8 के लिए कोयला सप्लाई की जाती है। फिलहाल, सप्लाई को रोकी हुई है। आग लगने का कारण अब तक स्पष्ट नहीं हो सका है। फायर ब्रिगेड ने घंटों मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। बता दें कि चार मई को नंदनी खदान में भी इसी तरह कन्वेयर गैलरी में आग लगी थी। 183 मीटर लंबी कन्वेयर बेल्ट जल गई थी। इस कारण वहां लाइम स्टोन का उत्पादन करीब 12 दिन ठप रहा। इस बाबत बीएसपी प्रबंधन का कहना है कि गर्मी के कारण आग लगने की आशंका जताई जा रही है। जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।