बिलासपुर। नईदुनिया न्यूज

स्टेट क्रिकेट बोर्ड की सलेक्शन कमेटी ने शनिवार की शाम राज्य की रणजी टीम के 30 संभावित खिलाड़ियों की घोषणा कर दी है। इसमें बेहतर प्रदर्शन के दम पर शहर के 7 खिलाड़ी अपनी जगह बनाने में कामयाब हुए हैं।

शनिवार को सलेक्शन कमेटी के मुख्य चयनकर्ता गोपाल राव, साईं कुमार की टीम ने संभावित 30 खिलाड़ियों की घोषणा की है। इन तीस खिलाड़ियों में बिलासपुर से 7, बीसीए से 5, बीएसपी से 5, रायपुर से 5, एजी से 7 और राजनांदगांव से 1 खिलाड़ी को शामिल किया गया है। आने वाले दिनों में ये खिलाड़ी एसोसिएट ट्रॉफी खेलने के साथ ही कैंप में भाग लेंगे। इसके बाद अंतिम 15 खिलाड़ियों से राज्य की टीम बनेगी, जो आने वाले दिनों में रणजी ट्राफी में छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व करेंगे। वर्ष 2016 की शुरुआत में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने छत्तीसगढ़ में क्रिकेट खेल के हो रहे विकास की खुलेदिल से तारीफ की थी। साथ ही यहां के खिलाड़ियों पर उनकी पैनी नजर थी। खिलाड़ियों के खेल कौशल व क्रिकेट इंफ्रास्ट्रक्चर को देखते हुए बीसीसीआई ने तत्काल छत्तीसगढ़ को अपना स्थाई सदस्य बना लिया। स्थाई सदस्य बनने के साथ ही छत्तीसगढ़ को रणजी क्रिकेट खेलने का भी दर्जा मिल गया। सदस्य बनने के बाद बीसीसीआई ने जल्द से जल्द रणजी टीम तैयार करने की बात कही। स्टेट क्रिकेट बोर्ड ने सभी जिले के लगभग 300 खिलाड़ियों का चयन कर टीम बनाने की तैयारी शुरू की। सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को चयनित करते हुए खिलाड़ियों की छंटनी करते हुए सिलसिला यहां तक पहुंचा है।

जिले व क्लब से चयनित खिलाड़ी

बिलासपुर - अभिषेक सिंह, अभ्युदयकांत सिंह, पी. विवेक, शहनवाज हुसैन, शिवेंद्र सिंह, शुभम सिंह ठाकुर, सनी दास।

रायपुर - अफसर खान, अनुज तिवारी, प्रतीक यादव, साहिल गुप्ता, विशाल कुशवाहा।

राजनांदगांव - अजय मंडल।

बीसीए (भिलाई क्रिकेट एसोसिएशन)- अभय चौहान, अभिषेक खरे, अभिषेक ताम्रकार, प्रतीकराज सिन्हा, विक्रांत सिंह राजपूत।

बीएसपी (भिलाई स्टील प्लांट)- अमनदीप खरे, शकीब अहमद, सिद्धार्थ चंद्राकर, सौरभ खैरवार, वी. नितेश राव।

नवोदित खिलाड़ियों को मिला सुनहरा मौका

संभावित 30 की घोषणा के बाद जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष विजय केशरवानी ने कहा कि बिलासपुर के खिलाड़ी पिछले पांच साल से जिला क्रिकेट संघ के मार्गदर्शन में मेहनत करते आ रहे हैं। अनेक मूलभूत सुविधाओं के अभाव में हमारे नवोदित खिलाड़ियों ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया है। लगातार बेहतर प्रदर्शन ने उन्हें राज्य की रणजी टीम तक पहुंचाया। आने वाले दिनों में हमारे खिलाड़ी राष्ट्रीय स्तर पर मैच खेलते हुए आगे बढ़ते हुए बिलासपुर व छत्तीसगढ़ का नाम रोशन करेंगे।

कैंप में साबित करनी होगी श्रेष्ठता

जिला क्रिकेट संघ के सचिव विटेंश अग्रवाल ने बताया कि अंतिम 15 के लिए 30 खिलाड़ी दो माह के कैंप में हिस्सा लेंगे। इसमें दो अलग-अलग टीम बनाकर एक-दूसरे का सामना करेंगे। इसमें जो सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेगा वह अंतिम 15 में चुना जाएगा। इसके अलावा एसोसिएट टूर्नामेंट के अलावा अन्य ट्राफियों में भी खिलाड़ियों को शानदार प्रदर्शन करना होगा।