बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

विवादित जमीन पर बाउंड्रीवाल बनाने से मना करने को लेकर जमकर बवाल हो गया। हमलावरों ने मिलकर घर घुसकर मारपीट कर दी। इस हमले में आहत को अपनी जान बचाकर भागना पड़ा। परिजन ने उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है।

तोरवा पुलिस के अनुसार दोमुहानी निवासी हरिदास पात्रे पिता विदेश (50) संजय अग्रवाल के घर मजदूरी करता है। दोमुहानी में संजय अग्रवाल व राजू अग्रवाल की भूमि है। तीन-चार साल से हरिदास उस जमीन की देखरेख कर रहा है। दोमुहानी निवासी सुकलाल की जमीन अग्रवाल की जमीन से लगी हुई है। इसके कारण दोनों के बीच कब्जा को लेकर विवाद चल रहा है। बीते छह जून को रमेश निषाद पिता पुन्नीलाल ने अग्रवाल की जमीन पर अवैध निर्माण कराने का आरोप लगाते हुए तहसीलदार से शिकायत कर दी। इस पर तहसीलदार व पटवारी ने मौके में जाकर निर्माण कार्य पर रोक लगा दिया। इसके साथ ही रोड की जमीन पर किसी को भी निर्माण कार्य नहीं करने के निर्देश दिए। लेकिन छह जून की रात संतोष ने अग्रवाल की जमीन पर बाउंड्रीवाल बनाने के लिए गड्ढा खोद दिया। इसकी जानकारी हरिदास को हुई तो वह मना करने लगा। इस पर संतोष की पत्नी व पुत्री सभी एक साथ होकर फावड़ा, गैंती व सब्बल से हरिदास को मारने लगे। पीड़ित वहां से भागकर अपनी जान बचाते हुए घर पहुंचा। इतने में हमलावर उसे दौड़ाते हुए घर पहुंच गए। संतोष व उसका बेटा, पुत्र व भतीजे घर में घुसकर हरिदास को मारने लगे। इस हमले में वह बुरी तरह से घायल हो गया। उसे बेहोशी की हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं हमलावर भाग निकले। पीड़ित की शिकायत पर तोरवा पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ बलवा का अपराध दर्ज कर लिया है।