बिलासपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सिरगिट्टी के तिफरा निवासी युवती ने अपने प्रेमी को झांसा देकर अगवा किया। फिर अपने घर ले जाकर रिश्तेदारों के साथ मिलकर जानलेवा हमला कर दिया। इस बीच घायल युवक को सभी परिजन कार में बैठाकर सुनसान जगह पर ले जाकर छोड़ दिया। पुलिस ने आहत युवक को इलाज के लिए सिम्स में भर्ती कराया है। वहीं, मामले में हत्या के प्रयास का अपराध दर्ज कर प्रेमिका समेत उसके पांच रिश्तेदारों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस के अनुसार तिफरा के यदुनंदन नगर निवासी जय बंजारे पिता पंचराम (25) घुरू निवासी राहुल सिंह के साथ मिलकर जमीन खरीद-बिक्री करता है। गुरुवार की दोपहर वह किसी काम से निकला था।

इस दौरान वह तिफरा में रहने वाली अपनी प्रेमिका सावित्री कौशिक (22) के घर के पास पहुंचा। इस दौरान रुपए के लेनदेन को लेकर उनके बीच विवाद हो गया। तब दोनों आपस में गाली-गलौज करने लगे। इस दौरान मामले की शिकायत लेकर थाने जाने की बात कहकर जय शाम करीब 5.30 बजे वहां से पैदल निकल गया। कुछ ही देर में युवती उसका पीछा करते हुए गई और फिर राजा ढाबा के पास से उसे रकम देने का झांसा देकर स्कूटी में बैठाकर अपने घर ले आई। इस दौरान सावित्री, उसके पिता रामलाल, भाई नारायण व उसकी मां जानकुंवर ने मिलकर उसकी जमकर पिटाई की। इससे जय बुरी तरह घायल हो गया। उसे घर में ही बांधकर रखे रहे। फिर रात करीब एक बजे वे उसे सफेद रंग की कार में बैठाकर सिरगिट्टी के औद्योगिक परिक्षेत्र के सेक्टर डी की ओर ले गए।

इस दौरान नारायण ने धारदार हथियार से उसके पेट पर छह-सात बार वार किया। फिर उसे फेंककर भाग निकले। बुरी तरह से आहत युवक बेहोश पड़ा रहा। होश आने पर उसने डॉयल 112 को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस उसे लेकर सिम्स आई। उसका यहां उपचार चल रहा है। इस घटना की खबर मिलते ही सिरगिट्टी पुलिस ने आहत युवक का बयान दर्ज किया। आरोपितों के खिलाफ धारा 342, 364, 307, 34 के तहत अपराध दर्ज कर लिया गया है। उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

ढाई लाख रुपए दिया था उधार, मांगने पर किया हमला: पुलिस को दिए बयान में घायल युवक ने बताया कि युवती से उसका पुराना प्रेम संबंध था। इसी के चलते उसने उसे दो लाख 50 हजार रुपएउधार दिए थे। रकम मांगने पर युवती टालमटोल कर रही थी। इसी को लेकर युवती ने पहले गाली-गलौज किया। फिर उसके थाने जाने की बात पर वह बहलाकर अपनी गाड़ी में बैठाकर घर ले आई।