बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सरकंडा की एकता कॉलोनी निवासी युवक ने संपत्ति विवाद को लेकर अपने ही भाई के खिलाफ धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कराया है। आरोप है कि उसके भाई ने अधिकारियों से मिलीभगत कर संयुक्त खाते के करीब 18 लाख रुपये का धान बेचकर रुपयों की हेराफेरी की है। हाईकोर्ट के आदेश पर पुलिस ने यह कार्रवाई की है।

सरकंडा पुलिस के अनुसार फरहदा निवासी अरुण कुमार शुक्ला पिता स्व. सुशील चंद्र शुक्ला (43) ने शिकायत की थी कि उनकी पैतृक जमीन में होने वाली फसल को उनके भाइयों के बीच समान रूप से बांटी जाती है। लेकिन उनके भाई तारेश शुक्ला ने अधिकारियों के साथ मिलीभगत कर फर्जी अनापति प्रमाण पत्र बनवा लिया और इसी आधार पर उसके हिस्से के धान को बेचकर 18 लाख रुपये को अपने खाते में ट्रांसफर कर आहरण कर लिया। पीड़ित भाई ने इस मामले की शिकायत सरकंडा थाने में की थी। लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इससे परेशान होकर उन्होंने हाईकोर्ट में मामला दायर कर दिया। हाईकोर्ट ने उसके पक्ष में आदेश देते हुए सरकंडा पुलिस को मामले में धोखाधड़ी का अपराध दर्ज करने कहा था।