बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सरकंडा के अशोक नगर देसी शराब दुकान के पास माइक्रो फाइनेंस कंपनी के सीए से मारपीट कर लूटपाट करने वाले दो आरोपित की पहचान कर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। उनके पास से लैपटॉप सहित अन्य दस्तावेज जब्त किया गया है। इस मामले में दो आरोपित अभी भी फरार हैं। पुलिस उनकी पतासाजी कर रही है।

सरकंडा पुलिस के अनुसार मुंगेली जिले के लोरमी के झिरवान निवासी मनमोहन वैष्णव पिता छेदीलाल स्पंदना माइक्रो फाइनेंस कंपनी के पेंड्रारोड ब्रांच में सीए के पद पर कार्यरत हैं। गुरुवार की रात 8.30 से नौ बजे के बीच अशोक नगर स्थित देसी शराब दुकान के पास दो बाइक सवार चार युवकों ने रोक लिया। इस दौरान उसके साथ गाली-गलौज करते हुए मारपीट शुरू कर दी। फिर उसके पास से दो मोबाइल, लैपटॉप, तीन हजार रुपये, एसबीआइ का एटीएम कार्ड, आधार कार्ड, पेन कार्ड, ड्राइविंग लायसेंस, पासबुक, स्पंदना माइक्रो फाइनेंस का आइडी कार्ड समेत अन्य दस्तावेज लूटकर भाग निकले। इस मामले की रिपोर्ट पर पुलिस धारा 394 के तहत अपराध दर्ज कर जांच में जुट गई थी। जांच के दौरान पुलिस ने चांटीडीह निवासी दऊवा यादव पिता मोती यादव (19) व राजू उर्फ नीलेश सोनी पिता छेदीलाल (20) की पहचान की। फिर उनकी पतासाजी कर उन्हें पकड़ लिया। दोनों आरोपितों ने पूछताछ में अपराध स्वीकार किया है। वहीं उनके पास से लैपटॉप समेत अन्य दस्तावेज जब्त किए गए। पुलिस उनके बताए अनुसार दो फरार आरोपितों की तलाश में जुट गई है।