बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

नशीली दवा बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए एसपी आरिफ शेख ने अभियान छेड़ दिया है। बुधवार की रात तोरवा के लालखदान में नशीली दवा लेकर जा रहे स्कूटी सवार युवक को पकड़ा गया। फिर उसके घर में भी दबिश दी गई। उसके पास से बड़ी मात्रा में नशीली दवा जब्त की गई है।

शहर में नशीली दवाओं का अवैध कारोबार बड़े पैमाने पर फल-फूल रहा है। कुछ मेडिकल स्टोर में भी प्रतिबंधित व नशीली दवाइयों की बिक्री की जा रही है। इस तरह की शिकायतों को एसपी शेख ने गंभीरता से लेते हुए पुलिस अफसरों को लगातार कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। इस पर बुधवार को एडिशनल एसपी नीरज चंद्राकर, सीएसपी नसर सिद्दिकी व तोरवा टीआइ प्रवीण राजपूत ने लालखदान में संदेही युवक की पतासाजी कराई। फिर लालखदान निवासी पप्पू श्रीवास को पकड़ लिया। वह स्कूटी में नशीली दवा लेकर बेचने निकला था। उसके पास से दवा बरामद करने के बाद उसके घर में भी दबिश दी। वहां भी बड़ी मात्रा में नशीली दवा मिली। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। उसके पास से 300 रेक्सोजेसिक इंजेक्शन,100 नाइट्रोसन टेबलेट व सैकड़ों की संख्या में सीरिंज बरामद किया गया है। उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया गया है।

तस्कर की तलाश में जुटे

पुलिस की पूछताछ में आरोपी पप्पू श्रीवास ने महत्वपूर्ण सूचना दी है। उसके बताए अनुसार पुलिस शहर में नशीली दवा सप्लाई करने वाले सरगना की जानकारी जुटा रही है। साथ ही शहर में उसकी तरह नशीली दवा बेचने वालों की भी जानकारी एकत्र कर कार्रवाई की तैयारी में है।

दो मेडिकल स्टोर संचालक भी हुए थे गिरफ्तार

दो दिन पहले एडिशनल एसपी चंद्राकर व सीएसपी सिद्दिकी ने कोतवाली क्षेत्र के तेलीपारा में दबिश दी थी। इस दौरान उन्होंने दो मेडिकल स्टोर संचालकों को रंगे हाथों गिरफ्तार किया था।