बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

बेटी की शादी के बाद विदाई करते ही पिता ने खेत में पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस घटना से गांव में सनसनी फैल गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

सिरगिट्टी क्षेत्र के ग्राम पोड़ी निवासी दुर्गा प्रसाद गोयल पिता जागेश्वर गोयल (50) खेती-किसानी करता था। कुछ दिन पहले उसकी चौथे नंबर की बेटी की शादी तय हुई थी। तय कार्यक्रम के अनुसार सोमवार की सुबह बेटी की बारात आई। बारातियों का स्वागत करने के बाद दोपहर में शादी हुई। दुर्गा प्रसाद पूरे दिन बेटी की शादी में जुटा रहा। इसके बाद शाम करीब छह बजे विदाई की गई। दिनभर काम में व्यस्त होने के बाद दुर्गाप्रसाद शाम करीब 6.30 बजे नहाकर आने की बात कहकर निकला। अभी उसकी बेटी की डोली ससुराल भी नहीं पहुंची थी कि तालाब के बजाए दुर्गाप्रसाद अपने खेत पहुंच गया और पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस बीच ग्रामीणों ने उसकी लाश को पेड़ पर लटकते देखा, तब गांव में हड़कंप मच गया। कुछ ही देर में वहां ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस अब तक आत्महत्या के कारणों का पता नहीं लगा पाई है। हालांकि, प्रारंभिक पूछताछ में उसे गंभीर बीमारी होने की बात कही जा रही है।

मातम में बदली शादी की खुशियां

दुर्गाप्रसाद के घर में कुछ देर पहले शादी की खुशियों का माहौल था। अभी बेटी की विदाई के बाद मेहमान घर में ही बैठे थे। वहीं बेटी नई नवेली दुल्हन बनकर ससुराल भी नहीं पहुंची थी तभी दुर्गा प्रसाद की आत्महत्या की खबर मिल गई। देखते ही देखते पूरे घर में शादी की खुशियां मातम में बदल गई।