बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

दुर्ग-निजामुद्दीन एक्सप्रेस के एक कोच में एसी बिगड़ने और ज्ञानेश्वरी एक्सप्रेस में पानी नहीं होने के कारण यात्रियों ने जमकर हंगामा मचाया और ट्रेन को रोक दिया। इसके बाद रेल प्रशासन ने शिकायत दूर की। इसके कारण संपर्क क्रांति एक घंटे और ज्ञानेश्वरी एक्सप्रेस 15 मिनट तक बिलासपुर स्टेशन में खड़ी रही।

शनिवार की दोपहर को दुर्ग-निजामुद्दीन संपर्क क्रांति एक्सप्रेस के रायपुर से छूटने के बाद कोच बी तीन का एसी बंद हो गया। ट्रेन के भाटापारा पार करने के बाद यात्री गर्मी से परेशान हो गए। यात्रियों ने इसकी शिकायत की। इसके बावजूद सुधार नहीं किया गया। बिलासपुर पहुंचने के बाद भी सुधार नहीं किए जाने पर यात्रियों ने हंगामा कर ट्रेन रोक दी। इसकी जानकारी होने पर रेल अधिकारी तुरंत मौके में पहुंचे और एसी में सुधार शुरू किया। एक घंटे की मशक्कत के बाद सुधार कर ट्रेन को रवाना किया गया। इसी प्रकार शनिवार को मुंबई-हावड़ा ज्ञानेश्वरी एक्सप्रेस के कोच एस तीन में पानी नहीं था। यात्रियों ने कोच में पानी नहीं होने की दुर्ग स्टेशन में शिकायत की। इसके बावजूद कोच में पानी नहीं भरा गया। बिलासपुर से भी बिना पानी भरे गाड़ी को रवाना किया जा रहा था। इससे आक्रोशित यात्रियों ने चेन पुलिंग कर गाड़ी रोक दी। यात्री कोच में पानी भरने के बाद ही ट्रेन रवाना करने की मांग को लेकर अड़े रहे। इसके बाद कोच में पानी भरा गया। इसके कारण ज्ञानेश्वरी एक्सप्रेस भी 15 मिनट तक बिलासपुर स्टेशन में खड़ी रही।