0 विधायक पांडेय के हस्तक्षेप के बाद पुलिस ने दिखाई सक्रियता

बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

कांग्रेस नेता के साथ दुर्व्यवहार करने के मामले में विधायक के हस्तक्षेप के बाद पुलिस ने सक्रियता दिखाई। मंगलवार को रेलवे स्टैंड के दो कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया गया। वारदात के बाद वे फरार हो गए थे।

शनिवार की रात करीब 11.45 बजे जरहाभाठा ओमनगर निवासी प्रदेश कांग्रेस कमेटी के संचालक पंकज सिंह पिता सुधीर सिंह अपनी कार से मां, पत्नी व बच्चों के साथ रिश्तेदार को रेलवे स्टेशन छोड़ने गए थे। इस दौरान जीआरपी थाना के सामने बेरियर के पास रेलवे स्टैंड के कर्मचारियों से किराए को लेकर विवाद हुआ। कर्मचारी उन्हें पकड़कर धक्कामुक्की कर जीआरपी थाना ले जाने लगे। स्टैंड के कर्मचारियों से उन्होंने ड्रॉप एंड गो का किराया नहीं देने की बात कही। बाद में रकम देने के बाद भी दुर्व्यवहार किया। इस मामले की रिपोर्ट कांग्रेस नेता ने तोरवा थाने में दर्ज कराई। दूसरे दिन शहर विधायक शैलेष पांडेय कांग्रेसियों के साथ डीआरएम से मामले की शिकायत करने पहुंचे। वहीं उन्होंने पुलिस की निष्क्रियता पर भी सवाल उठाए। इसके बाद तोरवा पुलिस सक्रिय हो गई है। इसी के तहत स्टैंड के दो कर्मचारी कोरबा निवासी संदीप गुप्ता पिता दिलीप गुप्ता व तारबाहर नगीना मस्जिद के पास रहने वाले मोनू उर्फ बी सुभाष पिता आदित्य नारायण को गिरफ्तार लिया।

----------

25 सुरेश 7

--------