बिलासपुर । नईदुनिया प्रतिनिधि

कांग्रेस कार्यकर्ता के परिवार में कोई सदस्य शासकीय सेवा में है और मनचाहे जगह पर तबादला कराना चाहते हैं तो जिला कांग्रेस कमेटी के माध्यम से उनको आवेदन देना होगा। जिला कांग्रेस कमेटी अनुशंसा के साथ सूची पीसीसी के हवाले करेगी। इसके बाद राज्य शासन द्वारा तबादला आदेश जारी किया जाएगा।

डेढ़ दशक बाद राज्य की सत्ता में वापसी करने के बाद कांग्रेसी रणनीतिकारों ने शासन की तमाम योजनाओं में मैदानी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को तव्वजो देने का निर्णय लिया है। आने वाले दिनों में राज्य शासन द्वारा तृतीय व चतुर्थ वर्ग के कर्मचारियों का तबादला आदेश जारी किया जाएगा। इसके पहले कार्यकर्ताओं से पूछा जा रहा है कि परिवार का कोई सदस्य शासकीय नौकरी में तो नहीं है। अगर है तो क्या भाजपा शासनकाल में प्रताड़ना का शिकार हुआ। इसके चलते दूरस्थ क्षेत्र में तबादला तो नहीं हो गया है। अगर ऐसा है तो परिवार के शासकीय सदस्य को वे कहां लाना चाहते हैं। इस संबंध में उनकी राय ली जा रही है। पीसीसी ने प्रदेशभर के जिला कांग्रेस कमेटी को पत्र लिखकर ऐसे कार्यकर्ताओं से आवेदन मंगाने कहा गया है। पीसीसी के निर्देश पर जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों से आवेदन मंगाए जा रहे हैं। जानकारी के अनुसार परिवार के सदस्य को नजदीक लाने के लिए कार्यकर्ताओं द्वारा आवेदन भी दिए जा रहे हैं। पीसीसी के एक पदाधिकारी की मानें तो जिला मुख्यालय के नजदीक परिवार के सदस्यों की पदस्थापना के लिए कार्यकर्ताओं ने आवेदन दिया है। इनकी सूची बनाई जा रही है। जल्द ही सूची पीसीसी के हवाले कर दी जाएगी। पीसीसी द्वारा राज्य शासन को और वहां से जिले के प्रभारी मंत्री के हवाले किया जाएगा। प्रभारी मंत्री अपनी अनुशंसा के साथ सूची कलेक्टर को सौपेंगे। कलेक्टर फिर तबादला आदेश जारी करेंगे ।

जगह रिक्त होने पर देंगे प्राथमिकता

पीसीसी ने स्पष्ट कर दिया है कि कार्यकर्ता परिवार के सदस्य को जगह खाली होने पर प्राथमिकता दी जाएगी । जगह रिक्त न होने पर आसपास की जगह पर तबादला आदेश जारी किया जाएगा।

भाजपा शासनकाल में कांग्रेसी परिवार के सदस्य के नाम पर प्रताड़ना झेलने वाले कर्मचारियों का मनमाफिक जगह पर तबादला के लिए आवेदन लिए जा रहे हैं। सूची जल्द पीसीसी के हवाले कर दी जाएगी।

विजय केशरवानी

अध्यक्ष, जिला कांग्रेस कमेटी बिलासपुर