रायपुर। दो दिन पहले प्रदेश में हुई बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से बर्बाद हुई फसल का मुआवजा सरकार किसानों को देगी। गुरुवार को विधानसभा परिसर स्थित मुख्य समिति कक्ष में आयोजित राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में यह निर्णय लिया गया है।

मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में मंत्रिपरिषद के सदस्यों ने ओला से फसलों की बरबादी का मुद्दा उठाया। बताया गया कि ओलावृष्टि से किसानों की 23 हजार हेक्टेयर में लगी रबी की फसल चौपट हो गई है। इससे करीब 20 हजार किसान प्रभावित हुए हैं। उन्हें लाखों रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है।

मुख्यमंत्री ने राजस्व विभाग को निर्देश दिया कि तत्काल फसल की क्षति का आकलन करके राज्य शासन को रिपोर्ट भेजी जाए। उन्होंने फसल क्षति का सर्वेक्षण कर राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के तहत जल्द से जल्द मुआवजा वितरित करने को कहा है।

मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना-सबके लिए आवास (शहरी) मिशन के तहत स्वीकृत परियोजनाओं के लिए राज्यांश की राशि को जुटाने के लिए 3357 करोड़ रूपए ऋण लेने का निर्णय भी लिया गया। राज्य शहरी विकास अभिकरण द्वारा 20 वर्ष (2017-18 से 2036-37 तक) की अवधि के लिए यह ऋण लिया जाएगा।