बिलासपुर । नईदुनिया प्रतिनिधि

लोकसभा चुनाव के आठ महीने पहले से ही छत्तीसगढ़ के साहू बहुल इलाके में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बड़े भाई प्रहलाद मोदी की सक्रियता बनी हुई है। अलग-अलग अवसरों पर समाज के कार्यक्रमों में न केवल शिरकत करते रहे हैं वरन लामबंदी का काम भी करते रहे हैं। छग में उनके द्वारा समाज को लामबंद करने महीनों से बिसात बिछाई जा रही है।

कोरबा की सभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एकाएक साहू समाज का जिक्र नहीं किया है। इसके पीछे की पटकथा पहले से ही लिखी जा रही है। प्रहलाद मोदी की प्रदेश में सबसे ज्यादा सक्रियता बिलासपुर और दुर्ग संभाग में देखने को मिलती रही है। प्रदेश में दुर्ग लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले बेमेतरा, धमधा व साजा तथा बिलासपुर संभाग के अंतर्गत बिलासपुर व मुंगेली जिले में साहू समाज के लोगों की अच्छी खासी बहुलता है। प्रहलाद मोदी इन्हीं क्षेत्रों में सबसे ज्यादा सक्रिय रहे हैं। सामाजिक बैठकों के अलावा परिवार मिलन समारोह, नवनिर्वाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण समारोह सहित छोटे से लेकर बड़े कार्यक्रमों में उनकी बराबर की सहभागिता रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कोरबा प्रवास से दो दिन पहले वे बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र के प्रवास पर आए थे। बिलासपुर में उन्होंने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत की । समाज के पदाधिकारियों के अलावा समाज प्रमुखों से मुलाकात की । उन्होंने पूरा एक दिन बिलासपुर के समाज प्रमुखों को दिया। दूसरे दिन सुबह रतनपुर के लिए रवाना हुए । रतनपुर महामाया मंदिर में पूजा अर्चना के बाद कोटा में समाज के लोगों से मुलाकात की । वहां से मुंगेली,लोरमी होते हुए दुर्ग जिले की ओर कूच किया। तीन दिन के प्रवास के दौरान सामाजिक लोगों के बीच संपर्क किया। उनसे रायशुमारी की और जरूरी संदेश देकर आगे कूच कर गए। प्रहलाद मोदी द्वारा भीतर ही भीतर चलाए जा रहे अभियान को पीएम मोदी ने कोरबा की सभा में सार्वजनिक कर दिया । बड़े भाई जिस अभियान को आठ महीने से चला रहे थे उस पर निर्णायक संदेश पीएम मोदी ने कोरबा में समाज के लोगों को दे दिया । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बहाने समाज के लोगों को एकजुट करने और अपने पक्ष में लामबंदी की जोरदार कोशिश की ।

बिलासपुर,दुर्ग और महासमुंद लोकसभा पर पड़ेगा असर

पीएम मोदी द्वारा कोरबा से दिए संदेश का कोरबा के अलावा बिलासपुर,दुर्ग और महासमुंद लोकसभा चुनाव में व्यापक असर देखने को मिलेगा। बिलासपुर,दुर्ग और महासमुंद में साहू समाज की बहुलता होने के साथ ही निर्णायक भूमिका में भी है। बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा ने अरुण साव को चुनाव मैदान में उतारा है। समाज विशेष के उम्मीदवार के मैदान में होने से साहू समाज की लामबंदी भी देखी जा रही है।