0 22 प्रकार के ग्रामीण खेलों का हुआ था आयोजन

बिश्रामपुर । नईदुनिया न्यूज

लटोरी गांव के दशहरा मैदान में दो दिवसीय ग्रामीण दंगल प्रतियोगिता का समापन गृहमंत्री व सांसद के आतिथ्य में किया गया। 9 अगस्त से प्रारंभ प्रतियोगिता के अंतिम चरण की दो दिवसीय प्रतियोगिता में सैकड़ों खिलाड़ियों ने विविध खेल प्रतियोगिताओं में खेल जौहर का प्रदर्शन करते हुए हजारों खेल प्रेमियों का स्वस्थ मनोरंजन किया।

जिला सहकारी बैंक के डायरेक्टर अजय गोयल द्वारा लटोरी गांव में आयोजित दो दिवसीय ग्रामीण दंगल प्रतियोगिता के समापन में गृहमंत्री रामसेवक पैकरा मुख्य अतिथि थे। अध्यक्षता सांसद कमलभान सिंह ने की। गृहमंत्री ने क्षेत्रों में जगह-जगह ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने आयोजक अजय गोयल बधाई देते कहा कि ऐसे आयोजनों से ग्रामीण प्रतिभाओं में निखार आएगा। उन्होंने खेल के महत्व पर प्रकाश डालते कहा कि खेल स्वस्थ जीवन के लिए जरूरी है। नियमित खेल मनुष्य के जीवन को सतत नई दिशा देने का काम करता है। सांसद कमलभान सिंह ने कहा कि क्षेत्र के हर वर्ग के खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए अजय गोयल द्वारा आयोजित ग्रामीण दंगल वास्तव में एक अनोखा आयोजन है। इससे पारंपरिक खेलों की महत्ता के साथ-साथ ग्रामीण प्रतिभाओं को प्रोत्साहन मिला है।

हजारों खिलाड़ियों ने दिखाए खेल जौहर

9 अगस्त से 15 सितम्बर अलग अलग स्थान पर आयोजित दंगल प्रतियोगिता में प्रत्येक वर्ग के हजारों ग्रामीण खिलाड़ियों ने अपने खेल जौहर का प्रदर्शन करते हुए खेल प्रेमियों का स्वस्थ मनोरंजन किया। आयोजनों में विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत कर सम्मानित करते हुए उनकी हौसला अफजाई की गई। पारंपरिक खेलों के प्रति ग्रामीण खेल प्रेमियों में काफी उत्साह नजर आया।

पारंपरिक खेलों को सहेजना नैतिक जिम्मेदारी

आयोजक अजय गोयल ने कहा कि पारंपरिक खेलों को सहेजना हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी है। इन खेलों को प्रोत्साहित करने और खिलाड़ियों के कौशल को एक मंच प्रदान करने ग्रामीण दंगल खेल स्पर्धा का आयोजन किया। जिसमें हर वर्ग के लोगों का भरपूर सहयोग मिला।समारोह में अतिथियों ने विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत करते हुए हौसला आफजाई की। इस दौरान अजय गोयल, अमलेश कुमार, जिम्मी खान, अमरजीत सिंह, महेश्र्वर पैकरा, अनिल जायसवाल, संतोष कौशिक, अमरनाथ पैकरा, मनीजर राजवाड़े, ज्ञानचंद सिंह, किरण केराम, शोभनाथ राजवाड़े, देवधन बिझिया आदि सक्रिय रहे। मंच संचालन एजाज अहमद ने किया।