दंतेवाड़ा। तोयलंका सड़क निर्माण में लगे वाहनों में आगजनी करने वाले तीन नक्सलियों को पुलिस ने एक पखवाड़े बाद गिरफ्तार किया है। इनमें से एक जनमिलीशिया कमांडर है। जिस पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित था। रविवार को कटेकल्याण थाना फोर्स और सीआरपीएफ 195 बटालियन कैंप मेटापाल के जवानों ने सूरनार और बड़ेलखापाल के बीच पहाड़ी में घेराबंदी कर इन्हें पकड़ा है।

गिरफ्तार नक्सलियों में सूरनार के बाजारपारा निवासी बामन उर्फ कोर्री पिता महादेव 26, पटेलपारा के गुड्डी पिता बदरू मंडावी 24 तथा हुर्रा पिता हिड़मा मंडावी 23 शामिल हैं। एएसपी नक्सल आपरेशन गोरखनाथ बघेल ने बताया कि आरोपी बामन जनमिलिशिया कमांडर है।

उस पर शासन की नीति अनुसार एक लाख रुपए का इनाम घोषित हैं तथा कई संगीन वारदातों में उसकी तलाश जारी थी। जबकि गुड्डी और हुर्रा जनमिलिशिया सदस्य के रुप में नक्सली संगठन में कार्य कर रहे थे। बामन पर आरोप है कि वह मेटापाल सरपंच पति की हत्या, यात्री बस में आगजनी, पुलिस पार्टी पर हमला सहित कई अपराधों में संलिप्ता थी।