दंतेवाड़ा। उपचार के लिए जिला हॉस्पिटल पहुंची पांच लाख की इनामी महिला नक्‍सली ने शनिवार को आत्‍मसमर्पण कर दिया। वह सुकमा जिले के केरलापाल एरिया कमेटी की सदस्‍य और सीएनएम अध्‍यक्ष के रूप में काम कर रही थी। पुलिस ने उस पर पांच लाख का इनाम घोषित किया था। समर्पण के बाद महिला ने डीआरजी की महिला फाइटर्स टीम में शामिल होने की इच्‍छा जाहिर की है।

शनिवार को दरभा डिवीजन कमेटी ने बंद का आव्‍हान किया है। इसी दौरान पुलिस कप्‍तान के सामने एक महिला नक्‍सली ने आत्‍मसमर्पण कर दिया। वह बासागुड़ा के चुकवाय गांव की रहने वाली महिला नक्‍सली का नाम नंदे मंडावी उर्फ लाली पति अर्जुन मड़कम (26) है। उसे दंतेवाड़ा, बीजापुर और नारायणपुर जिले के कई संगीन वारदातों का आरोपी बताया गया है।

उसके द्वारा किए गए अपराधों में 2014 में चिंतागुफा के ग्राम कसालपाड़ घटना में शामिल होने का आरोप है। इस वारदात 14 जवान शहीद हुए थे। इसी तरह 2010 में नारायणपुर के झाराघाटी में अपने सा‍थियों के साथ पांच पुलिस कर्मियों को फायरिंग कर मारने का आरोप है। इसी तरह बीजापुर, दंतेवाड़ा जिले के नक्‍सल वारदातों में शामिल होना बताया गया है।

इनका कहना है

बीमार महिला नक्‍सली उपचार के लिए दंतेवाड़ा आई थी। जहां डीआरजी की महिला कमांडोज को देखकर समर्पण की इच्‍छा जाहिर की और सीधे कार्यालय पहुंच गई। शासन की नीतियों के अनुसार उस पर पांच लाख का इनाम था। आत्‍मसमर्पित नक्‍सली को नीति के अनुसार सुविधाएं और सहयोग दी जाएगी।

-डॉ अभिषेक पल्‍लव, एसपी दंतेवाड़ा