दंतेवाड़ा। नगर के आंवराभाटा रेलवे क्रॉसिंग पर गुरुवार की सुबह उस समय अफरा-तफरी मच गई जब एक पिकप ने बैरियर को क्षति पहुंचाई। कुछ ही देर में मालगाड़ी वहां से गुजरने वाली थी। रेलवे कर्मचारी ने आवागमन रोकने लोहे के जंजीर से नाकेबंदी की।

दरअसल आंवराभाटा में मुख्य मार्ग से होते केके रेलवे लाइन गुजरती है। 24 घंटे में करीब 30 से अधिक बार यहां से मालगाड़ी और पैसेंजर दौड़ती है। इस दौरान मुख्य मार्ग के आवागमन रोकने बैरियर लगाया था। गुरुवार को भी करीब साढ़े 11 बजे किरंदुल की ओर से आ रही मालगाड़ी के पार होने के लिए बैरियर बंद किया जा रहा है।

इसी दौरान सीआरपीएफ की पिकप वाहन तेज रफ्तार में गुजरी। कर्मचारी हुटर बजाते बैरियर डाउन कर रहा था। वाहन एक बैरियर बार कर लिया और दूसरी ओर के बैरियर में जाकर फंस गई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार वाहन की रफ्तार अधिक होने से पिकप का ऊपरी हिस्सा बैरियर से टकराकर क्षतिग्रस्त हो गया।

इसके दोपहर बाद तक सड़क के दोनों वाहनों को रोकने लोहे की जंजीर का सहारा लगाया गया। हालांकि बैरियर से वाहन टकराने के बाद कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ। बावजूद रेलवे कर्मचारी ने वाहन की पहचान करते उसे रूकवा लिया। साथ ही उच्चाधिकारियों को इसकी जानकारी दी। सीआरपीएफ के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। दोपहर बाद रेलवे बैरियर को इंजीनियरों ने ठीक किया। तब तक लोहे की जंजीर लगाकर दोनों ओर के वाहनों को नियंत्रित किया गया।