Naidunia
    Saturday, December 16, 2017
    PreviousNext

    नक्सलियों के खिलाफ संयुक्त अभियान, आठ टीमें जंगल में

    Published: Thu, 07 Dec 2017 06:40 PM (IST) | Updated: Fri, 08 Dec 2017 09:04 AM (IST)
    By: Editorial Team
    naxal police 07 12 2017

    दंतेवाड़ा। नक्सली 2 दिसंबर से पीएलजीए सप्ताह मना रहे हैं। इस दौरान जिले के जंगलों में फोर्स ने भी आमद दे दी है। सीमाई जिले और फोर्स की ज्वाइंट आॅपरेशन में जवानों के साथ अफसर भी सप्ताह भर से जंगल की खाक छान रहे हैं।

    हालांकि फोर्स को अभी तक कोई बड़ी सफलता नहीं मिली है लेकिन अधिकारी मान रहे हैं कि नक्सली बैकपुट पर हैं। फोर्स के दबाव में नक्सली सप्ताह के दौरान शांत हैं। किरंदुल तक रेल यातायात भी बाधित नहीं हुई है। रात्रिकालीन मालगाड़ियों का भी संचालन सुचारू है।

    नक्सलियों ने बुधवार को पालनार क्षेत्र में बैनर- पर्चा बांधकर 12 दिसंबर को बंद का ऐलान किया हैं। वहीं उनका पीएलजीए सप्ताह शुक्रवार 8 दिसंबर को सप्ताह हो रहा है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि लगातार सर्चिंग और मूवमेंट से नक्सली पीछे हटने लगे हैं।

    नक्सली काफी दबाव में हैं और एरिया से पलायन करने की भी सूचना मिल रही है। पुलिस सूत्रों की माने तो नक्सलियों की आमद वाले इलाकों में विकास कार्य के लिए लोग सामने आने से भी नक्सली वहां से पलायन करने मजबूर हो रहे हैं। कभी नक्सली गढ़ रहा कटेकल्याण ब्लॉक के बड़ेगुडरा मार्ग का दुरुस्तीकरण भी शुरू हो गया है।

    इसी तरह अरनपुर से जगरगुंडा मार्ग पर निर्माण बारिश के बाद फिर शुरू कर दिया गया। बारसूर-पल्ली मार्ग में भी सड़क निर्माण चल रहा है। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्रों में जर्जर हो चुकी सड़कों का मरम्मत पीडब्ल्यूडी, आरईएस, पीएमजीवायएस के तहत कराया जा रहा है।

    इनका कहना है

    नक्सलियों के खिलाफ जिले में ज्वाइंट आॅपरेशन चल रहा है। अलग-अलग थाना से सीआरपीएफ, डीआरजी, एसटीएफ और जिला बल की अलग-अलग 8 टीम अधिकारियों के साथ जंगल में हैं। वहीं सीमाई जिले के साथ भी फोर्स का आॅपरेशन चल रहा है। लगातार सर्चिंग और फोर्स के मुवमेंट से नक्सली कमजोर पड़े हैं।

    - जीएन बघेल, एएसपी नक्सल आॅपरेशन

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें