जगदलपुर। दंतेवाड़ा जिले के बैलाडीला स्थित लौह अयस्क के डिपाजिट-13 तक पहुंचने एप्रोच रोड निर्माण के लिए जारी पेड़ों की कटाई का काम रोक दिया गया है। ढ़ाई किलोमीटर की एप्रोच सड़क बनाने यहां करीब 25 हजार पेड़ काटने की अनुमति शासन ने दी है। एक माह पहले पेड़ों की कटाई युद्धस्तर पर शुरू की गई थी।

लोकसभा चुनाव को देखते हुए प्रशासन के निर्देश पर कटाई का काम धीमा कर दिया गया गया था जिसे फिलहाल दंतेवाड़ा विधायक भीमा मंडावी की नक्सलियों द्वारा हत्या किए जाने के बाद पूरी तरह से रोक दिया गया है। डिपॉजिट 13 एनएमडीसी-सीएमडीसी लिमिटेड एनसीएल के अधिपत्य में है।

केन्द्र और छत्तीसगढ़ सरकार के उपक्रमों की संयुक्त भागीदारी वाले इस डिपॉजिट में निजी उद्योग समूह अडानी को माइन डेवलपर एंड आपरेटर बनाने के बाद से यह क्षेत्र काफी सुर्खियों में है। एप्रोच रोड के साथ डिपॉजिट 13 में माइन डेवलपिंग की दिशा में भी काम शुरू किया जा चुका है।

एप्रोच रोड निर्माण का काम देख रहे एक अफसर ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि मंडावी की हत्या के बाद अंचल में दहशत है। इस माहौल में पेड़ों की कटाई करना संभव नहीं है।