Naidunia
    Thursday, January 18, 2018
    PreviousNext

    तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य प्राप्त नहीं कर लो

    Published: Sat, 13 Jan 2018 06:22 PM (IST) | Updated: Sat, 13 Jan 2018 06:22 PM (IST)
    By: Editorial Team

    धमतरी। नईदुनिया न्यूज

    स्वामी विवेकानंद की जयंती पर शुक्रवार को जगह-जगह कार्यक्रम का आयोजन हुआ। युवा दिवस के रूप में उनकी जयंती मनाई गई। स्वामी जी की युवाओं द्वारा दी गई प्रेरणा उठो और जागो और तब तक मत रुको जब तक अपना लक्ष्य प्राप्त न कर लो सहित अन्य प्रेरक बातों को याद किया गया। ज्ञान अमृत इग्लिश स्कूल धमतरी में एचएम पुष्पलता जाधव ने स्वामी विवेकानंद की जीवनी विद्यार्थियों को बताई।

    इस अवसर पर शिक्षिका लक्ष्मी सोनी ने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने हमें धर्म और विज्ञान के नजर से देखने का नया नजरिया दिया। कार्यक्रम का संचालन आभार व्यक्त अपूर्व विश्वकर्मा ने किया। इस अवसर पर नीलेश्वरी पवार, अभिलाषा चौहान, भुनेश्वरी देवांगन, अंशु दीवान, कल्पना माने, ममता तिवारी, ममता कहार, लक्ष्मी सोनी, आइसा रिजवी, सरोज चक्रधारी, मीनाक्षी ध्रुव, ईरम बॉनो, कविता सोनकर, प्रियंका सोनी, महेन्द्र सोनी, आकाश वर्मा, शैलेन्द्र साहू व छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

    चिटौद में भी हुआ कार्यक्रम

    पुरूर। शासकीय प्राथमिक विद्यालय ग्राम चिटौद में भी स्वामी विवेकानंद की जयंती मनाई गई। शिक्षक जगतारण कतलाम ने जीवनी सुनाई। उन्होंने मोबाइल पर यू ट्यूब के माध्यम से स्वामी विवेकानंद द्वारा अमेरिका के शिकागो में दिए गए उद्बोधन की रिकार्डिंग सुनाई। कार्यक्रम में चित्रकला दीवान, कोमिन साहू, निशा चौहान, कामिन यादव,कविता सिन्हा, बाल केबिनेट के जितेश कुमार, तेजस्वी मरई, भूमिका साहू, पेमेश यादव, मुकेश्वरी नेताम, प्रशांत रजक, पीताम्बर साहू, रेशमी साहू, रोशनी ढीमर, यश कुमार निषाद, थानेश्वरी यादव, डोलिया कोर्राम, तेजप्रकाश नेताम सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

    बिरेझर चौकी में मनी जयंती

    जीजामगांव। शाउमावि जीजामगांव के एनएसएस इकाई ने पुलिस चौकी बिरेझर में पुलिस के साथ स्वामी विवेकानंद की जयंती मनाई। चौकी प्रभारी शांता लकड़ा ने कहा कि स्वामी जी का जीवन एक आदर्श जीवन रहा है। सन्यासी के वेश में उन्होंने सम्पूर्ण विश्व भ्रमण कर भारतीय संस्कृति और आध्यात्म के बारे में पूरे संसार को बताया। कार्यक्रम अधिकारी निरंजन साहू ने रासेयो के प्रेरणा पुरुष के जीवन दर्शन के बारे में बताया। सशिमं चटौद में स्वामी विवेकानंद जयंती पर बच्चों ने स्वामी विवेकानंद की वेशभूषा धारण कर गांव की गलियों में भ्रमण किया।

    स्वामीजी भारतभूमि के अनूठे रत्न

    मगरलोड। आध्यात्मिक गुरु स्वामी विवेकानंद भारतभूमि में जन्मे अनूठे रत्न हैं जिन्होने आदर्शों को स्थापित कर युवाओं में चेतना जगाई । यह बात ग्राम पंचायत मोहेरा के सरपंच त्रिलोचन श्रीमाली ने विवेकानंद जयंती समारोह में कही। कार्यक्रम में छत्तीगसढ़ माटी कला बोर्ड के सदस्य चित्रसेन प्रजापति ने कहा कि स्वामी विवेकानंद के आदर्शो व विचारों को आत्मसात करना चाहिए। विशेष अतिथि हजारीलाल बिसेन, पोखराज कश्यप ने भी विचार रखे। कार्यक्रम में दिगम्बर निषाद, युगल कुमार, अमर दीप यादव, चरण सिंह, निरेन्द्र कुमार, लक्ष्मीनारायण, राम अवतार, योगेश कुमार, पोषण निषाद सहित विद्यार्थी और ग्रामीण उपस्थित थे।

    और जानें :  # CG News # Dhamtari
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें