धमतरी। बेटी को घर पर कैद कर रखने और किसी से बातचीत करने पर बेदम पिटाई करने की चर्चा 16 वर्षीय लड़की की संदिग्ध अवस्था में मौत होने के बाद बासंपारा वार्ड में हो रही है। सिटी कोतवाली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बांसपारा (मराठापारा वार्ड) में गैंदलाल साहू अपनी 16 वर्षीय पुत्री दुर्गा साहू के साथ रहता था। दुर्गा की संदिग्ध अवस्था में मौत की खबर पुलिस को तीन अक्टूबर बुधवार को मिली।

पुलिस मामला संदिग्ध मानकर जांच-पड़ताल कर रही है। मृतका का घर के आसपास की महिलाओं ने चर्चा में बताया कि गैंदलाल साहू परेवाडीह का रहने वाला है। कुछ साल पहले उसकी पत्नी की मौत हो गई। तब से वह अपनी बेटी के साथ बांसपारा आकर किराए के मकान में रह रहा है। वह आइसक्रीम ठेला में काम पर जाता था।

कुछ दिनों से काम पर नहीं जा रहा है। जब काम पर जाता था तो बेटी को ताला बंद कर घर पर रखता था। बेटी के किसी से बात करने और मिलने-जुलने पर उसने पाबंदी लगा दी थी। गलती करने पर बेटी को बेदम मारता था। दो अक्टूबर की रात भी उसने बेटी की पिटाई की। जिससे उसके घुटने में चोट लगी है।

मारपीट से जब बेटी की मौत हो गई, तब वह वार्ड के एक डॉक्टर को बुलाकर ले गया। डॉक्टर ने परीक्षण के बाद मृत घोषित कर दिया। इसके बाद डॉक्टर के माध्यम से यह बात लोगों को पता चली। लोगों से मामला पुलिस तक पहुंचा।

लोगों में जो चर्चा हो रही है, वह सही है या गलत, इसका खुलासा पुलिस जांच के बाद हो पाएगा। इस संबंध में सिटी कोतवाली थाना प्रभारी राकेश मिश्रा का कहना है कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत का कारण पता चल पाएगा।