धमतरी। केरेगांव वनपरिक्षेत्र में एक बार फिर से तेंदुआ नजर आने से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। क्षेत्र के कई लोगों ने अब तक इस क्षेत्र में तेंदुए को देखने की पुष्टि की है। क्षेत्र में विचरण करते एक तेंदुए का वीडियो इन दिन इस क्षेत्र में तेजी से वायरल हो रहा है। किसी अनहोनी की आशंका के चलते अब आसपास के ग्रामीण शाम होने के बाद जंगल की ओर जाने से झिझकने लगे हैं।

जिला मुख्यालय से 25 किलोमीटर दूर नगरी ब्लाक के ग्राम केरेगांव, पंडरीपानी, पालवाड़ी, बगरूमनाला, चंदनपुर, डोकाल, कोर्रा, हर्राकोठी समेत अन्य गांवों के आसपास माहभर से तेंदुए की दहशत है। इसे लेकर ग्रामीण काफी परेशान है। न तो वन विभाग गंभीर है और न ही क्षेत्र के जनप्रतिनिधि।

इसके चलते ग्रामीणों में खतरा बना हुआ है। दिन ढलते ही अब इस मार्ग से आवाजाही करने वाले भी डरने लगे हैं। जानकारी के अनुसार इस क्षेत्र के कई लोगों का सामना इस तेन्दुए से हो चुका है। ग्राम कोर्रा के ग्रामीण गुलाब कुमार ने बताया कि केरेगांव के आसपास के गांवों में तेन्दुआ को लेकर लोगों में दहशत है।

उसने बताया कि डोकाल निवासी शिवकुमार मरकाम का मुर्गी फार्म है, जिसके चारों ओर तार की फेसिंग है। पॉलीथिन से पोल्ट्री फार्म के बड़े हिस्से को ढंक कर रखा था। जिसे तेन्दुए ने कई बार क्षतिग्रस्त किया है। इसके पैरों के निशान स्पष्ट तौर पर देखे जा सकते हैं।

कई लोगों से हो चुका है सामना

ग्राम हर्राकोठी निवासी अनिल धु्रव ने बताया कि केरेगांव में उनकी किराना दुकान है। जहां से वह रोज शाम को दुकान बंद करने के बाद गांव लौटते हैं, 12 अक्टूबर को गांव लौटते समय एक तेंदुआं से सामना हुआ। तेंदुए को सड़क किनारे बैठे देख उसने अपने गाड़ी की स्पीड बढ़ा दी।

वहीं धमतरी शहर से गांवों में पहुंचकर फेरी लगाकर सामान बेचने वाले एक बाईक सवार को तो कुछ समय पहले एक तेन्दुएं ने दौड़ा दिया था। इसी तरह बगरूमनाला सरपंच महेश गोटा के भी तेन्दुए से आमना-सामना होने की चर्चा है।

लोगों ने मोबाइल से बनाया वीडियो

ग्रामीणों ने बताया कि कुछ दिनों पहले पण्डरीपानी में सुखमन मरकाम के यहां नहावन कार्यक्रम आयोजित था। जहां शामिल होने उनके नाते-रिश्तेदार पिकअप वाहन में सवार होकर गांव पहुंचे थे। कार्यक्रम के बाद वे जैसे ही अपने पिकअप वाहन से लौट रहे थे, उन्हें रास्ते के किनारे एक तेन्दुआ बैठा नजर आया। तेन्दुएं को देखते ही सभी हड़बड़ा गए। इसी बीच उनमें से एक ने सड़के किनारे बैठे तेन्दुएं की वीडियो बना ली। जानकारी के अनुसार यह वीडियो केरेगांव-गट्टासिल्ली मार्ग के घाटी की है।

सुबह-शाम वनों में प्रवेश न करें

केरेगांव व आसपास इलाके में तेन्दुआ नजर आने की जानकारी हुई है। इस संबंध में ग्रामीणों को आगाह किया जा रहा है। वहीं सुबह व शाम के समय जंगलों में प्रवेश करने से मना किया जा रहा है। यह वक्त वन्य प्राणियों के विचरण का होता है। ऐसे समय में जंगलों में प्रवेश करना खतरनाक साबित हो सकता है। - अमिताभ बाजपेयी, डीएफओ