रायगढ़। नईदुनिया प्रतिनिधि

फसल बीमा के लिए एक बार फिर कृषि व राजस्व विभाग के अफसर बीमा एजेंट बनकर किसानों को योजना से जोड़ेंगे। खरीफ 2018 के लिए विभाग को 70 हजार किसानों को बीमा से जोड़ने का अघोषित लक्ष्य दे दिया गया है। इधर बीते साल के सूखे के नुकसान का क्लेम मांगने के लिए हर दिन शिकायतें आ रही हैं। जिससे फसल बीमा बेचने में किसानों की नाराजगी से घबराए अधिकारियों की नींद उड़ गई है।

बीते साल के सूखे में अपनी फसल में नुकसान सहने वाले किसान क्लेम के लिए हर रोज शिकवा शिकायतें कर रहे हैं। तहसील कार्यालयों से लेकर जिला मुख्यालय तक किसान बीमा कंपनी द्वारा क्लेम नहीं देने एवं मामूली क्लेम राशि मिलने का उलाहना देकर फसल बीमा योजना पर अफसरों को खरी-खोटी सुना रहे हैं। वहीं शासन ने खरीफ 2018 के लिए भी फसल बीमा योजना में किसानों को जोड़ने के लिए जिलेवार टार्गेट दे दिए हैं। बुधवार को रायपुर में हुई बैठक में फसल बीमा को सभी किसानों तक पहुंचाने की बात कहकर कृषि विभाग के आरएईओ एवं भू अभिलेख विभाग की मदद से काम करने कहा गया है। रायगढ़ जिले में इस बार करीब 70 हजार किसानों को इसमें जोड़ने का टार्गेट दिया गया है। इसके अलावा प्रत्येक आरएईओ को कम से कम 100 अऋ णी किसानों का फसल बीमा कराने कहा गया है। जिसके बाद अफसरों की नींद उड़ गई है और फसल बीमा बेचने के सरकारी फरमान के बाद किसानों की नाराजगी की आशंका में अधिकारी कर्मचारी यह काम करना नहीं चाह रहे हैं।

10 महीने बाद मिला क्लेम

बीते साल का फसल बीमा क्लेम किसानों को 10 महीने बाद मिल पाया है। कंपनी ने जून 2017 में प्रचार प्रसार कर जुलाई महीने में काम शुरू कर दिया था। नियमों के अनुसार क्लेम देय होने पर संबंधित ग्राम पंचायत की रिपोर्ट फरवरी महीने तक आ जानी चाहिए थी। ताकि किसानों को हुए नुकसान की रबी की फसल के समय भरपाई हो सके लेकिन ऐसा नहीं हुआ। जबकि फसल कटाई प्रयोग जनवरी में ही पूरा हो गया था।

पिछले साल घटे थे 25 हजार किसान

साल, बीमा कंपनी, किसानों की संख्या

2013, राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना , 37949

2014,बजाज अलियांज जनरल इंश्योरेंस, 42671

2015, एग्रीकल्चर इंश्योरेंस आफ इंडिया, 50519

2016, इफ्को टोकियो जनरल इंश्योरेंस, 75675

2017,इफ्को टोकियो जनरल इंश्योरेंस , 55353

हफ्ते भर में जारी होगी अधिसूचना

फसल बीमा के लिए अभी शासन ने अधिसूचना जारी नहीं की है। खरीफ 2018 में फसलों के चयन एवं योजना की बीमा शर्तों को लेकर संचालनालय कृषि की ओर से इसी हफ्ते अधिसूचना प्रकाशित की जाएगी। जिसके बाद भू अभिलेख एवं कृषि विभाग द्वारा इसका प्रचार प्रसार किया जाएगा और अफसरों को किसानों को फसल बीमा प्लान बेचने के लिए मैदान पर उतरना होगा।

रायगढ़ में 4 करोड़ 13 लाख का क्लेम

तहसील , किसानों की संख्या, क्लेम राशि

बरमकेला, 985, 79 लाख 19 हजार 533

खरसिया, 91, 1 लाख 52 हजार649

पुसौर,51, 6 लाख 89 हजार 489

रायगढ़, 209, 1 लाख 53 हजार 481

सारंगढ़, 2334, 3 करोड़ 23 लाख 26 हजार 899

तमनार, 102, 84 हजार 552

-------------------------------

कुल , 3772, 4 करोड़ 13 लाख 26 हजार 602

खरीफ 2018 में भी खरीफ फसल बीमा के लिए अधिक से अधिक किसानों को शामिल किया जाना है। अभी आधिकारिक रूप से इसकी कोई अधिसूचना नहीं आई है लेकिन इसके लिए सभी आरएईओ की ड्यूटी लगाई जाएगी। - एमआर भगत,डीडीए ।