गरियाबंद। छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बलों की सक्रियता से इस बार नक्सली तेंदूपत्ता ठेकेदारों से वसूली नहीं कर पा रहे हैं। इसी बौखलाहट में हथियारबंद नक्सलियों ने गरियाबंद जिले के मैनपुर थाना क्षेत्र स्थित नाऊमुड़ा तेंदूपत्ता गोदाम पर मंगलवार रात धावा बोल दिया। चौकीदार को बंधक बनाकर गोदाम में आग लगा दी। गोदाम में नौ करोड़ रुपये मूल्य का 4770 मानक बोरा तेंदूपत्ता जलकर राख हो गया। नक्सली घटना को अंजाम देने बाद पर्चे छोड़कर भाग निकले।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना को मैनपुर-नुआपाड़ा डिवीजन कमेटी के नक्सलियों ने अंजाम दिया है। करीब 20 से 25 हथियारबंद नक्सली घटना में शामिल थे। जिसमें आठ महिला नक्सली थीं। घटना के बाद से आसपास के जंगलों में सर्चिंग तेज कर दी गई है। जिस ओर (डुहामेटा पहाड़ी क्षेत्र) से नक्सली आए थे उस ओर भी जिला बल और सीआरपीएफ के जवान सर्चिंग में भेजे गए हैं।

पुलिस अधीक्षक एमआर आहिरे ने इसे नक्सलियों की बौखलाहट का परिणाम बताया है। उनका कहना है कि बढ़ते सर्चिंग और कॉमबिंग ऑपरेशन से नक्सलियों पर दबाव बढ़ा है। इस बार नक्सली तेंदूपत्ता ठेकेदारों से वसूली भी नहीं कर पाए जिसके चलते इस घटना को अंजाम दिया।