कोरबा। नईदुनिया न्यूज

शासकीय पीजी कॉलेज में टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंस की कक्षाओं के द्वितीय बैच का शुभारंभ गुरुवार को किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में अध्यक्ष जनभागीदारी समिति लुकेश्वर चौहान उपस्थित थे। विशिष्ट अतिथियों में सदस्य व्यासमुनी मिश्रा, दादूराम मनहर, एचडीएफसी बैंक से धर्माराव, क्षेत्रीय प्रबंधक अजीत कुमार, प्राचार्य डॉ. आरके सक्सेना शामिल हुए।

टीआइएसएस के संयोजक डॉ. एसके गोभिल ने बताया कि टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंस की कक्षाओं से पहले बैच में 50 छात्र-छात्राओं ने सफलतापूर्वक ज्ञान प्राप्त किया है। इस कोर्स से बच्चे किसी भी क्षेत्र में अपना रोजगार चुनने के लिए आत्मविश्वासी हो गए हैं। प्राचार्य डॉ. सक्सेना ने कार्यक्रमों की उपयोगिता बताते हुए छात्र-छात्राओं को कार्यक्रम की कोरबा में उपलब्धता एवं इसकी फीस पर चर्चा की। उन्होंने इस कार्यक्रम से 270 घंटे में परिवर्तन होना बताया तथा 15 दिन बाद छात्र-छात्राओं से फीडबैक लेने कहा। साथ ही इसकी उपयोगिता देखकर पालकों को कोर्स की सलाह दी। प्रथम बैच के विवेक ने अपना अनुभव बताते हुए कहा कि उद्यम, साहस, धैर्य, बुद्धि, शक्ति, प्रयास ये छह गुण हमें सफलता की ओर ले जाते हैं। टीआइएसएस से हममें ये गुण जागृत होते हैं। यह हमें निपुण बनाती है। क्षेत्रय कार्यक्रम प्रबंधक टीआइएसएस अजीत कुमार ने पीजी कॉलेज को टीआइएसएस का संचालन करने वाले सबसे सफल कॉलेज बताया। उन्होंने टीआईएसएस के 500 प्रोजेक्ट की जानकारी दी। श्री कुमार ने बताया कि टीआइएसएस न केवल छात्रों का कौशल विकास करता है, बल्कि रोजगार के लिए प्लेसमेंट भी शुरू किया है। कार्यक्रम का संचालन हेतु प्राचार्य डॉ. आरके सक्सेना एवं डॉ. दिनेश श्रीवास को शासन से प्रदत्त प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। अंत में प्रतिभा पुंडलिक ने अतिथियों का आभार व्यक्त किया। संचालन दिनेश श्रीवास ने किया।

उत्कृष्ट प्रदर्शन पर किया गया सम्मानित

मुख्य अतिथि लुकेश्वर चौहान ने छात्र-छात्राओं को भविष्य में कौशल से परिपूर्ण होने प्रेरित किया। एचडीएफसी बैंक प्रबंधक धर्माराव ने बताया कि उन्होंने अपनी स्नातक की उपाधि इसी महाविद्यालय से प्राप्त की है। उन्होंने कहा की रोजगार के लिए शिक्षा के साथ-साथ कौशल का होना भी आवश्यक है। इस अवसर पर महाविद्यालय के दैनिक वेतनभोगी विजय मानिकपुरी के पुत्र विशाल मानिकपुरी तथा साहनी चौहान की पुत्री को उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर सम्मानित किया गया। पूर्व में हुए यूर्थ स्पार्क खेलेगा छत्तीसगढ़ जीतेगा कार्यक्रम के विजयी प्रतिभागियों को भी सम्मानित किया गया।