जगदलपुर। बस्तर के घनघोर जंगल अपने आप में कई रहस्यों को समाए हुए हैं। यहां साल वनों के द्वीप में कई ऐसी जैव प्रजातियां हैं जो अपने आप में काफी अनूठी हैं। यहां के जंगलों में अक्सर दुर्लभ प्रजातियों के ऐसे जीव देखने मिलते हैं, जो आम तौर पर कहीं दिखाई नहीं देते।

भानुप्रतापपुर के जंगल में भी एक ऐसा ही अनोखा जीव देखने को मिला। गिरगिट की प्रजाती का यह जीव देखने में बेहद आकर्षक है। यह आकार में सामान्य गिरगिट से काफी बड़ा है और इसके शरीर का रंग धारीदार हरा है।

इस रंग की वजह से यह जीव पेड़ों और पत्तियों के बीच आसानी से छिप जाता है और फिर घात लगाकर छोटे कीड़े मकोड़ों का शिकार करता है। अपने इस खास शारीरिक रंग के चलते यह दूसरे बड़े शिकारी जानवरों से अपना बचाव भी आसानी से कर लेता है। शिकार के दौरान जब इस जीव ने अपनी जीभ निकाली तो उसका आकार करीब 5 सेंटीमीटर नजर आया, जो इसके पूरे शरीर के आकार का आधार है।