जगदलपुर (ब्यूरो)। भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा में शामिल होंने यदि बस्तर से भक्त रथयात्रा स्पेशल में सफर करने वाले हैं तो उन्हें तकलीफें सहकर पुरी पहुंचना होगा। रेलवे ने पहली बार पुरी आने-जाने बस्तर को भी एक रथयात्रा स्पेशल ट्रेन की सौगात दी है पर इसमें सभी कोच जनरल रखे गए हैं।

इसके चलते पूरा सफर जनरल कोच में होगा। स्लीपर व एसी कोच रथयात्रा स्पेशल में नहीं रखे गए हैं।जगदलपुर से पुरी की दूरी रेलमार्ग से 735 किलोमीटर है। सफर पूरा करने में 16 घंटे लगेंगे। एसी व स्लीपर कोच नहीं होने से बुजुर्ग व बच्चों को सबसे ज्यादा परेशानी होगी। लोगों ने रथयात्रा स्पेशल चलाने का स्वागत किया है पर सभी कोच जनरल रखे जाने पर निराशा भी जाहिर की है।

जनरल बोगी वाली रथयात्रा स्पेशल मिलने की बात का खुलासा रथयात्रा स्पेशल में सफर के लिए बर्थ आरक्षण कराने पहुंचे भक्तों को उस समय हुई जब रिजर्वेशन क्लर्क ने बताया कि इस ट्रेन के लिए बर्थ आरक्षण का आदेश नहीं है। बाद में परेशान होकर स्टेशन मैनेजर के पास पहुंचने पर बताया गया कि रथयात्रा स्पेशल के सभी कोच जनरल श्रेणी के रखे गए हैं।

स्लीपर व एसी कोच नहीं होंगे। इस कारण टिकटों की बुकिंग नहीं की जा रही है। 17 जुलाई को रथयात्रा स्पेशल जगदलपुर आएगी और शाम चार बजे यहां से पुरी के लिए रवाना होगी।

ट्रेन में सफर के लिए टिकट उसी दिन मिलेंगे। वापसी में 19 जुलाई को दोपहर पौने दो बजे रथयात्रा स्पेशल पुरी से जगदलपुर के लिए छूटेगी। उस दौरान भी टिकट ट्रेन छूटने के पहले मिलेगा।

इनका कहना है

'रथयात्रा स्पेशल में सभी कोच जनरल होने की जानकारी मिली है। डिटेल आने के बाद ही कुछ पाऊंगा।'

-जॉन कुजूर स्टेशन अधीक्षक जगदलपुर

---