जगदलपुर। छत्तीसगढ़ में नक्सलियों का शहीद दिवस पर घोषित दंडकारण्य बंद बेअसर रहा। एहतियातन दक्षिण बस्तर इलाके में ट्रेन व बस सेवाएं रोकी गईं थीं।

नक्सलियों के बंद की अपील पर बस्तर के अंदरूनी इलाकों में दिन भर खासी दहशत रही। सुरक्षा बलों ने भी चौकसी बढ़ा दी थी। कस्बों की दुकानें खुली रहीं लेकिन उपद्रव व तोड़फोन की आशंका को देखते हुए ट्रेनों का परिचालन रोकने का आदेश रेल प्रशासन ने जारी किया था।

इससे विशाखापट्टनम-किरंदुल पैसेंजर और एक्सप्रेस ट्रेन रविवार को भी जगदलपुर में ही खड़ी रही। रात में दंतेवाड़ा से किरंदुल के बीच मालगाड़ियों का परिचालन भी बंद रहा। सुकमा, बीजापुर व दंतेवाड़ा जिले में अंदरूनी नक्सली इलाकों में यात्री बस सेवा भी प्रभावित रही।