जगदलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

मतदान शुरू होने से पहले मार्कपोल का रिकार्ड डिलीट नहीं करने वाले जिले के पांच मतदान केन्द्रों की मतगणना वीवीपैट पर्ची से होगी। निर्वाचन आयोग ने इसका निर्देश जिला निर्वाचन अधिकारी को दिया है। बस्तर जिले में जगदलपुर विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 86 में मतदान केन्द्र क्रमांक 167 प्राथमिक शाला पटेलपारा पंडरीपानी, मतदान केन्द्र क्रमांक 184 प्राथमिक शाला नेतानार-2, मतदान केन्द्र क्रमांक 93 शासकीय उच्चतर कन्या क्रमांक-2, मतदान केन्द्र क्रमांक 136 फ्रेजरपुर-11 जगदलपुर और चित्रकोट विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 87 में मतदान केन्द्र क्रमांक 202 मुनगा में मार्कपोल का रिकार्ड डिलीट बिना किए मतदान शुरू कर दिया गया था। इसके कारण वास्तविक मतदान के आंकड़े में मार्कपोल के आंकड़े भी जुड़ गए हैं। बताया जाता है कि इन केन्द्रों में जहां गड़बड़ी हुई है वहां मार्कपोल की पर्चियां सुरक्षित रखी गई हैं। इव्हीएम में दर्ज मतदान के आंकड़ों में अंतर आने के कारण निर्वाचन आयोग ने इन मतदान केन्द्रों की पूरी मतगणना ही वीवीपैट की पर्ची से कराने का निर्देश जारी किया है। बस्तर संभाग में विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में करीब एक दर्जन मतदान केन्द्र और भीे हैं जहां मतदान कराने में लापरवाही सामने आई है। निर्वाचन सूत्रों के अनुसार इसके अलावा बस्तर जिले के बस्तर विधानसभा क्षेत्र के भी एक मतदान केन्द्र की मतगणना वीवीपैट से होगी। भले ही इस विधानसभा क्षेत्र में मार्कपोल से जुड़ी गलती सामने नहीं आई है। बताया गया कि पूरे प्रदेश में हरेक विधानसभा में एक-एक मतदान केन्द्र की मतगणना वीवीपैट से करने के निर्देशानुसार बस्तर विधानसभा में भी एक मतदान केन्द्र का चयन इसके लिए किया गया है।