0.जुर्म दर्ज कर जांच में जुटी पुलिस

जशपुरनगर नईदुनिया प्रतिनिधि। किसानों को सिंचाई की सुविधा उपलबध कराने के प्रदेश सरकार सुजला योजना के तहत सौर ऊर्जा चलित पंप उपलब्ध कराया है। अब चोरों की निगाहें किसानों के खेतों में लगे हुए इन्हीं पंप और सौर ऊर्जा प्लेट पर टिकी हुई है। जिले के आरा चौकी अंतर्गत बरगांव में अज्ञात चोरों ने ऐसी ही दो वारदातों को अंजाम दिया है। मामले में अपराध दर्ज कर पुलिस जांच में जुटी हुई है। जानकारी के मुताबिक बरगांव निवासी प्रार्थी विमल लकड़ा ने पुलिस में की गई शिकायत में बताया है कि उसे शासकीय योजना के तहत खेत की सिंचाई के लिये सौर उᆬर्जा चलित पंप प्रशासन द्वारा दिया गया था। जिसे उन्होनें गांव के समीप हर्राकोना में स्थित अपने खेत में लगा रखा था। 8 फरवरी की रात को अज्ञात चोरों ने सौर प्लेट पर हाथ साफ कर दिया। पेशे से एक नीजि स्कूल के शिक्षक विमल लकड़ा ने अपने शिकायत में पुलिस को बताया कि उनके खेत से सौ मीटर की दूरी पर स्थित बेनजामिन के खेत से भी चोरों ने सौर ऊर्जा प्लेट और पंप को चोरी कर ली है। शिकायत पर कार्रवाई करते हुए आरा पुलिस ने अज्ञात चोरों के विरूद्व आईपीसी की धारा 379 के तहत अपराध दर्ज कर मामले की पड़ताल शुरू कर दी है। विदित हो कि इससे पहले चोरो के गिरोह ने जिले भर में वन बाधित गांवों को रोशन करने के लिये सरकार द्वारा लगाए गए सौर ऊर्जा पॉवर प्लांट को निशाना बना चुके हैं। चोरों ने पंचायत भवन और छात्रावास में लगे हुए सौर ऊर्जा प्लेटों पर हाथ साफ किये है। इससे कई गांव अंधेरे में डूब गए थे। चोरी की इन वारदातों के बाद शासन ने सौर उᆬर्जा प्लेटों को सुरक्षित करने के लिये लोहे के मजबूत एंगल में वेल्डिंग कराने की पहल की थी। अब किसानों के सिंचाई के साधन को चोरों के कृदृष्टि से बचाने के लिये शासन स्तर पर क्या पहल होती है,इस पर किसानों की नजर टिक्ी हुई है।

-------------