जशपुरनगर (निप्र) । अब ऑटोमेटिक मशीन से कानून से संबंधित न केवल जानकारी लिया जा सकेगा अपितु इसे वीडियो के माध्यम से इसे सरलता से समझा भी जा सकेगा। एटीएम मशीन के तर्ज पर काम करने वाले न्याय पथ मशीन का संचालन गुरुवार से शुरू हो गया है। इस न्यायपथ मशीन की स्थापना जिला एवं सत्र न्यायालय में किया गया है। गुरुवार को इस मशीन का संचालन जिला न्यायधीश रविशंकर शर्मा, एडीजे सुधीर कुमार, राजभान सिंह, कलेक्टर एचएस गुप्ता, एसपी जेएस मीणा, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी अशोक लाल, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव अनिल पांडे और बार एसोशिएसन के अध्यक्ष बीएन सिंह के साथ अधिवक्तागण की उपस्थिति में शुरू किया गया। विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव अनिल पांडे ने बताया कि न्याय पथ मशीन में लगे कंप्यूटर में मनरेगा, श्रम कानून, बाल संरक्षण अधिनियम, पुलिस संबंधित नागरिकों के अधिकार, सूचना का अधिकार, मुफ्त कानूनी सलाह जैसे कई कानूनों की जानकारी लोड की गई है। मशीन को चालू करने पर इसके मेन मेन्यू में सभी कानून डिसप्ले होने लगता है। जिसे कानून के संबंध में जानकारी प्राप्त करना हो उसे टच कर देने से उसकी पूरी जानकारी स्क्रीन में डिस्प्ले होने लगा। स्क्रीन में टैक्स्ट के साथ संबंधित कानून को आसानी से समझाने के लिए एनिमेशन में चलने लगेगी। श्री पांडे ने बताया कि यूजर चाहे तो संबंधित कानून से जानकारी की प्रिंट भी प्राप्त कर सकता है। न्यायपथ मशीन स्थापित करने के उद्देश्य के संबंध में उन्होनें बताया कि अक्सर कानून की जानकारी के लिए लोग भटकते रहते हैं,लेकिन उन्हें यह सहजता से नहीं मिल पाती या फिर जो कानून की जानकारी देते हैं,वह आम लोगों के समझ में नहीं आ पाती। इस समस्या को दूर करने के लिए ही न्याय विभाग ने न्यायपथ मशीन की स्थापना की है।

---------------------------------------------------------------------