जशपुरनगर। नईदुनिया प्रतिनिधि

जिले भर में बरसात के आते ही पौधरोपण प्रारंभ कर दिया गया है। जहां पर्यावरण मित्र मंडल के द्वारा जागरूकता के साथ इस अभियान को जोड़ने कार्यकर्ता जुटे हैं। वहीं विभाग के द्वारा भी वन मित्रों को पूरा सहयोग किया जा रहा है। वन विभाग के द्वारा इस बार नई तकनीक सीड बॉल का उपयोग किया जा रहा है और पर्यावरण कार्यकर्ताओं के साथ पौधरोपण किया जा रहा है।

वन विभाग के द्वारा दुर्गम स्थानों सहित अपेक्षित क्षेत्रों में सीड बॉल तकनीक से पौधे लगाए जा रहे हैं। इस प्रयोग के साथ ही लोगों को इस तकनीक की जानकारी भी दी जा रही है। अभियान का प्रारंभ बेलमहादेव की पहाड़ी से किया गया। जहां वन विभाग के द्वारा वन मित्र मंडल समूह और सिनगी सेना के साथ सैकड़ों पौधे लगाए गए। वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी एसके गुप्ता ने बताया कि विभाग के द्वारा इस वर्ष पांच हजार सीड बॉल तैयार किए गए हैं। इसमें बीजों का मिट्टी, कोयला चूर्ण सहित आवश्यक खाद के साथ गोला बनाया गया है, जिसके अंदर बीज तैयार हो गए हैं। अपेक्षित क्षेत्रों में हल्का गड्डा खोदकर इसे लगाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि दुर्गम क्षेत्र में इसे पᆬेक देने मात्र से भी पौधे तैयार हो जाएंगे। बेलमहादेव के कार्यक्रम में डीएपᆬओ श्रीकृष्ण जाधव, पर्यावरण विद रामप्रकाश पांडे, सिनगी सेना की करूणा भगत, शंकुतला भगत सहित बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए और पौधरोपण किया।

घर-घर पहुंचाया जा रहा पौधा

वन विभाग के द्वारा आम लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक करते हुए पौधे भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। इसके तहत जिला मुख्यालय सहित मनोरा व अन्य ग्रामों में हरियाली प्रसार के लिए होम हर्बल गार्डन योजना अंतर्गत पौधे बांटे जा रहे हैं। जशपुर विधायक विनय भगत, नगरपालिका अध्यक्ष एचआर निकुंज, जिपं सीईओ राजेंद्र कटारा, डीएपᆬओ श्रीकृष्ण जाधव ने इसका उद्घाटन किया। योजना के अंतर्गत तुलसी, सतावर, पत्थरचट्टा, कालमेघ, मण्डूपर्णी, रत्ती, बच, सर्पगंधा, बेल आदि के पौधे निःशुल्क उपलब्ध कराए जा रहे हैं। ट्रक में विभाग के कर्मचारी भ्रमण करते हुए चौक, चौराहों में पौधों का वितरण इच्छुक लोगों को निःशुल्क कर रहे हैं।

लोदाम में पौधरोपण के साथ गोष्ठी

लोदाम पंचायत में पौधरोपण कार्यक्रम के साथ गोष्ठी का आयोजन किया गया। वन मित्र समूह के तत्वाधान में साहित्यकार हरिनाथ दास, सचिव लक्ष्मण सिंह के द्वारा लोदाम के सरस्वती शिशु मंदिर प्रांगण व सचिवालय परिसर में पौधरोपण का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में डीएपᆬओ श्रीकृष्ण जाधव, शिवानंद मिश्र, रामप्रकाश पांडे, राजू गुप्ता सहित पर्यावरण प्रेमी शामिल हुए। पौधरोपण के बाद यहां गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डीएपᆬओ श्रीकृष्ण जाधव ने वर्तमान समय में पेड़ों के महत्व पर अपनी बात रखी और कहा कि अब हमें समझना होगा कि यह हमारे जीवन में कितना महत्वपूर्ण है। रामप्रकाश पांडे ने उत्पन्ना पर्यावरण संकट पर अपनी बात रखी और कहा कि जीवन बचाना है तो पेड़ लगाने और पेड़ों को बचाने कार्य करना होगा। कवि हरिनाथ दास ने इस अवसर पर अपनी कविता की प्रस्तुति भी दी। हरिनाथ दास ने बताया कि वे छग और झारखंड सीमा पर दोनों राज्यों के समन्वय से संयुक्त पौधरोपण की योजना बना रहे हैं।

कृष और सुषमा को श्रद्घांजलि

इलाज के अभाव में जिले की निवासी सुषमा चौहान व बालक कृष के निधन पर जिले में शोक व्याप्त रहा। रविवार को बगीचा में वन मित्र समूह के योगेश थवाईत व साथियों के द्वारा श्रद्घांजलि देते हुए पौधारोपण किया गया। वहीं दो पौधे विशेष रूप से सुषमा और कृष की स्मृति में लगाए गए। इसके साथ ही बगीचा में अक्रम जावेद के द्वारा साथियों के साथ विकासखंड में पौधरोपण के लिए सतत प्रयास किया जा रहा है। जावेद अक्रम ने बताया कि वन मित्र समूह के द्वारा यहां गोष्ठी के साथ मौसम के अनुरूप पर्यावरण संरक्षण हेतु कार्य किया जा रहा है। बरसात में जहां पौधे लगाने में समूह जुटा है। वहीं शेष मौसम में वनों व लगाए गए पौधों के संरक्षण हेतु कार्य किए जाने योजना बनाई गई है।

युवा का जुनून

पर्यावरण संरक्षण के इस माहौल में बगीचा विकासखंड के युवा अमित जैन का जुनून भी इन दिनों चर्चा में है। ग्रामीण क्षेत्र से जुड़े अमित जैन के द्वारा हर दिन पर्यावरण के लिए पिछले एक साल से लगातार समय दिया जा रहा है। अमित जैन जहां अपने व्यवसायिक प्रतिष्ठान में आने वाले ग्रामीणों को पौधा देकर प्रेरित करने से नहीं चुकते हैं। वहीं आसपास के स्कूलों में, हर एक अवसरों पर पौधरोपण के साथ जिस स्थान पर पौधे लगाए गए हैं, उन्हें संरक्षण करने में जुटे रहते हैं। अमित ने दर्जनों स्थानों पर घेराव कराकर उसके संरक्षण के लिए भी कार्य कर रहे। अमित के द्वारा शहरों, नर्सरी आदि से पेड़ जुटाकर, खरीदकर भी बांटा जा रहा है।

-------------------